सिकोसा में पुलिस सहायता केंद्र का शुभारंभ

- लेमन साहू

गुंडरदेही: बालोद जिला पुलिस अधीक्षक एमएल कोटवानी के निर्देश पर एसडीओपी दिनेश कुमार सिन्हा एवं गुंडरदेही थाना प्रभारी रोहित कुमार मालेकर के अथक प्रयास से गुंडरदेही से 10 किलोमीटर दूर ग्राम सिकोसा में पुलिस सहायता केंद्र का शुभारंभ किया गया है।

बता दें कि यह अस्थाई पुलिस सहायता केंद्र का एक ही उद्देश्य है क्षेत्र में बढ़ रहे क्राइम की घटना को देखकर जिला के पुलिस अधीक्षक ने सिकोसा ग्राम की जनसंख्या अत्यधिक होने के कारण व मुख्य मार्ग में होने के कारण आसपास के लोगों को पुलिस से करीब आने और चोरी डकैती कम करने के उद्देश्य से यह अस्थाई पुलिस सहायता केंद्र का खोलने का निर्णय लिया गया है।

पुलिस विभाग की यह सराहनीय कार्य लोगों पर जन चर्चा बनी हुई है। लगातार गुंडरदेही पुलिस की कार्यवाही से शहर में शांति का माहौल बना हुआ है। ग्राम सिकोसा में अस्थाई रूप से पुलिस सहायता केंद्र खोलने पर नगर के वरिष्ठ नागरिक, वकील, थाना प्रभारी के सराहनीय कार्य पर जन चर्चा बन रहा है।

भाजपा विधि प्रकोष्ठ के सदस्य कृष्ण मूर्ति तिवारी ने बताया कि यह थाना प्रभारी की मंशा है कि क्षेत्र में अवैध कारोबार पर लगाम लगाकर क्राइम खत्म करने के उद्देश्य से जो कार्रवाई हो रही है यह काफी सराहना कार्य कर रहे हैं।

वहीं कांग्रेसी जिला संगठन के बड़े नेता गुंडरदेही निवासी रविंद्र त्रिपाठी का कहना है कि हमारी सरकार है और सरकार की मंशा के अनुरूप थाना प्रभारी की विशेष प्रयास से गुंडरदेही में अवैध कारोबार करने वालों को धड़ पकड़ कर रहे एक थानेदार के लिए सराहनीय कार्य है।

अस्थाई पुलिस सहायता सिकोसा में खोलने के मामले में जिला पुलिस अधीक्षक एमएल कोटवानी का कहना है की सिकोसा क्षेत्र के लोगों को थाना पहुंचने में देरी हो जाता है और लोग पुलिस से जुड़ने और पुलिस को पहुंचने में देरी होता है इसलिए सिकोसा को बढ़ा सेंटर देखते हुए अस्थाई पुलिस सहायता केंद्र खोला गया है। आगे भविष्य में यहां पर 2, 3 पुलिस जवान भी बैठाने का योजना है।

Back to top button