राष्ट्रीय

बंगाल में कानून व्यवस्था की स्थिति लगातार बिगड़ती जा रही: राज्यपाल धनखड़

श्चिम बंगाल में कानून व्यवस्था को लेकर राज्यपाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की

नई दिल्ली:पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने कानून व्यवस्था के मसले पर कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की है. राज्यपाल धनखड़ ने स्पष्ट कहा है कि लोकतंत्र का पालन हर किसी को करना होगा. उन्होंने ममता बनर्जी से सवाल किया है कि संविधान की आत्मा पर कब तक कुठाराघात करेंगी?

राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. जगदीप धनखड़ ने कहा कि लोकतंत्र में मीडिया का रोल अहम है, अगर इसे खराब किया गया तो लोकतंत्र में दिक्कत होगी. बंगाल में कानून व्यवस्था की स्थिति लगातार बिगड़ती जा रही है.

बंगाल के राज्यपाल ने सीएम से सवाल किया कि राज्य में कौन बाहरी है, उनका इससे क्या मतलब है? क्या भारतीय नागरिक भी बाहरी हैं, ममता को इस तरह बयान नहीं देने चाहिए, उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को आग से नहीं खेलना चाहिए. मुख्यमंत्री को संविधान का पालन करना चाहिए.

बंगाल गवर्नर ने कहा कि संविधान की आत्मा का ध्यान रखें, भारत एक है उसका नागरिक है. अगर आप इस रास्ते से भटकती हैं, तब मेरे दायित्व की शुरुआत होती है. बंगाल के राज्यपाल ने कहा कि कल की घटना को लेकर मैंने राज्य के डीजीपी, चीफ सेक्रेटरी को तलब किया.

जगदीप धनखड़ ने कहा कि उन्होंने कल की घटना को लेकर डीजीपी, चीफ सेक्रेटरी से बात की और दुख जताया. डीजीपी, चीफ सक्रेटरी मेरे पास बिना किसी रिपोर्ट या इनपुट लिए हुए है, जबकि मैंने लिखित में आदेश दिया था. क्या राज्य की पुलिस ‘राजनीतिक पुलिस’ हो गई है. राज्य के हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं, सिर्फ भ्रष्टाचार चल रहा है.

सरकारी तंत्र का राजनीतिक तंत्र हो गया है और विपक्ष के लिए कोई जगह नहीं है. जेपी नड्डा के काफिले पर हमले की निंदा बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर हुए हमले को लेकर बंगाल के राज्यपाल ने कहा कि ऐसा नहीं होता चाहिए थे, ये लोकतंत्र के लिए ठीक नहीं है. लोकतंत्र में हर किसी को अपने विचारों को रखने का हक है.

गवर्नर बोले कि मुख्यमंत्री किस प्रकार लापरवाह हो सकता है, क्या बंगाली कल्चर इस तरह बात करने की इजाजत देता है. ममता बनर्जी वरिष्ठ नेता हैं, मुख्यमंत्री के तौर पर दूसरा कार्यकाल पूरा कर रही हैं. ऐसे में अगर वो अपने शब्दों के लिए माफी मांगती हैं, तो अच्छा होगा.

राज्यपाल ने कहा कि राजनीतिक दल क्या करते हैं, उससे मुझे मतलब नहीं है. लेकिन बतौर गर्वनर मेरी कुछ जिम्मेदारी हैं. संविधान की रक्षा करना मेरा कर्तव्य है, कानून व्यवस्था का पालन करना, मानवाधिकार की रक्षा करना मेरी जिम्मेदारी है.

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने कहा कि बंगाल की सीएम ममता बनर्जी भी संविधान में बंधी हैं, उन्हें नियमों और कानून का पालन करना होगा. वो संविधान से अलग हटकर काम नहीं कर सकती हैं.

बंगाल के राज्यपाल ने कहा कि सिर्फ कल की ही घटना नहीं बल्कि सिलीगुड़ी में भी इस तरह हुआ है, जहां पर गुंडों को राज्य सरकार द्वारा समर्थन दिया जा रहा है. कल ही मानवाधिकार दिवस था, लेकिन इस तरह की घटना हुई.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button