अश्लीलता पर रोक लगाने के लिए बनाया जाए कानून :रवि किशन

बीजेपी एमपी रवि किशन ने केंद्र सरकार से की मांग

मुंबई:भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री के सुपरस्टार और बीजेपी एमपी रवि किशन ने केंद्र सरकार से भोजपुरी फिल्मों और गानों में अश्लीलता पर रोक लगाने के लिए कानून बनाने की मांग कर केंद्रीय सूचना एंव प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर सहित उत्तर प्रदेश और बिहार के मुख्यमंत्री को भी पत्र लिखा है।

रवि किशन ने कहा है कि भोजपुरी फिल्मों और गानों में अश्लीलता पर प्रतिबंध लगाया जाए। देश में लगभग 25 करोड़ लोग भोजपुरी भाषा से प्रेम रखते हैं और पूरी दुनिया के अंदर भोजपुरी बोलने और पढ़ने वाले लोग बसते हैं।

रवि किशन ने कहा कि वह भोजपुरी फिल्म जगत में पिछले 3 दशकों से अधिक समय से मुंबई से जुड़े हैं। इसमें कोई संदेह नहीं है कि भोजपुरी फिल्म उद्योग को समृद्ध बनाने में इनका महत्वपूर्ण योगदान है लेकिन ये मांग भी प्रासंगिक है।

गोरखपुर से सांसद रवि किशन लगातार भोजपुरी के उत्थान के लिए प्रयास कर रहे हैं। वह लोकसभा में इकलौते सांसद हैं, जिन्होंने भोजपुरी को संविधान की आठवीं अनुसूची में स्थान दिलाने के लिए विधेयक भी संसद में पेश किया, ताकि भारत सरकार इस भाषा को संरक्षण प्रदान करे।

रवि किशन ने अपने पत्र में लिखा कि भोजपुरी क्षेत्र का आजादी की लड़ाई में महत्वपूर्ण योगदान रहा है। उन्होंने कहा कि वह खुद भी पूर्वांचल के जौनपुर के निवासी हैं। रवि किशन ने पत्र में उल्लेख किया है कि भोजपुरी भाषा में कई फिल्में बनी हैं लेकिन पिछले कुछ दशक में भोजपुरी फिल्म और खासकर उसके गानों में काफी गिरावट आई है।

आज की भोजपुरी फिल्म और गाना अश्लीलता का पर्याय बन गया है, जो गम्भीर चिंता का विषय है। इससे युवा पीढ़ी के मन-मस्तिष्क पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है। इसलिए भोजपुरी फिल्मों और गानों की अश्लीलता पर लगाम लगाने की आवश्यकता है।

रवि किशन ने केंद्र सरकार सहित उत्तर प्रदेश सरकार और बिहार सरकार से इसके लिए एक कठोर कानून बनाए जाने की मांग की है, जिससे भोजपुरी गानें और फिल्मों में अश्लीलता पर रोक लग सके।

रवि किशन ने उल्लेख किया है कि प्रमुख रूप से पश्चिमी बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश के क्षेत्र में बोली जाने वाली भोजपुरी भारत में लगभग 25 करोड़ लोग भोजपुरी बोलते समझते है और भोजपुरी से प्रेम रखते हैं। पूरे विश्व में भोजपुरी जानने वालों की बड़ी तादात है।

भोजपुरी का सम्मान हम सबका दायित्व है। केंद्र सरकार सहित उत्तर प्रदेश सरकार और बिहार सरकार भोजपुरी के सम्मान के लिए कानून बनाकर समाज के बीच अच्छा संदेश देने का कार्य करेगी। इसके लिए वह पूरी तौर पर आश्वास्त हैं।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button