लॉ यूनिवर्सिटी के छात्र फिर आंदोलन पर उतरे

-सुप्रीम कोर्ट के स्टे देने के बाद डॉ. सिंह ने दोबारा कार्यभार संभाला

रायपुर।

हिदायतुल्ला नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी (एचएनएलयू) में कुलपति डॉ. सुखपाल सिंह ने कार्यभार संभालते ही विवाद शुरू हो गया। सुप्रीम कोर्ट के स्टे देने के बाद डा. सिंह ने दोबारा कार्यभार संभाला।

उनके ज्वाइन करने के थोड़ी देर बाद ही विरोध शुरू हो गया और देर शाम छात्रों ने उनके इस्तीफे की मांग को लेकर यूनिवर्सिटी परिसर में अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर दिया है। उनका कहना है कि कुलपति के इस्तीफे के बाद ही यह खत्म किया जाएगा।

छात्रों ने कुलपति के विरोध में छात्र अविश्वास प्रस्ताव लाया। उनका दावा है कि इस पर करीब 800 छात्रों ने हस्ताक्षर किए हैं। कुलपति ने सुबह 11 बजे ज्वाइन किया। इसकी भनक लगते ही छात्र सक्रिय हो गए।

शाम करीब 4 बजे छात्रों ने आनन-फानन में बैठक बुलायी और कुलपति के इस्तीफे तक आंदोलन करने का निर्णय लिया गया। शाम 6 बजे छात्र-छात्राएं तख्ती लेकर परिसर में धरने पर बैठ गए। इसकी जानकारी होने पर कुलपति डा. सिंह ने छात्रों के प्रतिनिधियों को बुलाकर उनसे बातचीत करने का प्रयास किया, लेकिन छात्रों के प्रतनिधिमंडल ने इनकार कर दिया। उनका कहना था कि वे सबके सामने बातचीत करेंगे।

अध्यापक भी आए सामने

इस बार छात्रों के समर्थन में विश्वविद्यालय के कई अध्यापक भी सामने आ गए हैं। छात्रों ने दावा किया है कि विवि के आधे से अधिक स्टाफ भी कुलपति का इस्तीफा चाहते हैं। सभी नए सिरे से प्रक्रिया की मांग कर रहे हैं।

सभागार में सवालों के जवाब देते हुए कुलपति सुखपाल सिंह ने छात्रों को धैर्य रखने कहा। उन्होंने सभी समस्याओं को एक-एक कर हल करने का आश्वासन दिया। इसके लिए वे तुरंत प्रयास करेंगे। छात्रों ने उनके तर्क को मानने से मना कर दिया।

Back to top button