गुजरात विधानसभा में विपक्ष के नेता परेश धनानी ने खटखटाया हाईकोर्ट का दरवाजा, जाने वजह

10 अप्रैल से रेमडेसिवीर की 5,000 शीशियों का नि:शुल्क वितरण शुरू किया

नई दिल्ली:गुजरात में भाजपा अध्यक्ष सीआर पाटिल द्वारा सूरत में मुफ्त में एंटीवायरल ड्रग रेमडेसिविर वितरित करने के बाद विवाद खड़ा हो गया है, जहां वर्तमान में कोविड-19 के 5,792 सक्रिय मामले हैं.

इस मामले में गुजरात विधानसभा में विपक्ष के नेता परेश धनानी ने राज्य बीजेपी अध्यक्ष सीआर पाटिल के खिलाफ गुरुवार को गुजरात हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया. गौरतलब है कि बीजेपी ने अपने सूरत कार्यालय से 10 अप्रैल से रेमडेसिवीर की 5,000 शीशियों का नि:शुल्क वितरण शुरू किया है.

गुरुवार को हाईकोर्ट के समक्ष दायर अपनी याचिका में कांग्रेस नेता ने पाटिल और सूरत के बीजेपी विधायक हर्ष सांघवी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की और आरोप लगाया कि सांघवी फार्मेसी एक्ट और ड्रग्स एंड कॉस्मेटिक्स एक्ट की संबंधित धाराओं का उल्लंघन कर दवा के वितरण में प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष की मदद कर रहे हैं.

गुजरात में बुधवार को कोरोना ने पुराने सभी रिकॉर्ड को तोड़ दिया. राज्य में कोरोना संक्रमण के सबसे ज्यादा 7,410 नए मामले सामने, जबकि इस दौरान 73 मरीजों की मौत हो गई. स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि गुजरात में अभी तक कुल 3,67,616 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है, जबकि संक्रमण से 4,995 लोगों की मौत हुई है.

विभाग के अनुसार, बुधवार को सबसे ज्यादा 25 लोगों की मौत अहमदाबाद जिले में हुई, वहीं राजकोट में 9, वड़ोदरा में 7, साबरकांठा और जूनागढ़ में दो-दो तथा अमरेली, दांग और गांधीनगर में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई. राज्य में फिलहाल 39,250 एक्टि मरीज हैं.

14 दिन के एक मासूम की कोरोना से हुई मौत राज्य में 14 दिन के एक मासूम की कोरोना वायरस से मौत हो गई. रिपोर्ट के मुताबिक, रोहित वसावा के बच्चे का जन्म होने के तीन बाद ही तबियत बिगड़ गई. रोहित बच्चे को व्यारा अस्पताल में ले गये, जहां टेस्ट में बच्चा कोरोना संक्रमित पाया गया. ये मामला सूरत से सामने आया है.

कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद बच्चे और माता-पिता को सूरत सिविल अस्पताल रेफर कर दिया गया. वहां, माता-पिता का भी टेस्ट हुआ लेकिन रिपोर्ट निगेटिव आई. बच्चे को किडनी की भी समस्या थी और कोरोना पॉजिटिव होने के वजह से उसकी तबियत और बिगड़ गई. 11 दिनों तक मासूम ने कोरोना से जंग लड़ी लेकिन आखिरकार वह इससे हार गया.

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button