गुलाम नबी के बयान का लश्कर ने किया समर्थन, मचा बवाल

कांग्रेस की किरकिरी, भाजपा ने बताया शर्मनाक

नई दिल्ली। कश्मीर मुद्दे पर कांग्रेस अपने दो नेताओं के द्वारा दिए गए बयान से कांग्रेस की मुश्किलें बढ़ गई है। पहले सैफुद्दीन सोज के आजाद कश्मीर के बयान पर किरकिरी हो चुकी है और अब राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद के उस बयान पर हंगामा मच गया है,

जिसमें उन्होंने कहा कि घाटी में चल रहे सेना के आॅपरेशन में आतंकी कम नागरिक ज्यादा मारे जा रहे हैं। आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा ने भी आजाद के इस बयान के समर्थन में प्रेस रिलीज जारी किया है।

लश्कर-ए-तैयबा के प्रवक्ता अब्दुल्ला गजनवी ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर में सेना के द्वारा नागरिकों को तड़पाया जा रहा है। वहां के नेता गुलाम नबी आजाद ने जो बात कही है वह बिल्कुल सही है। भारत की ओर से एक बार फिर जगमोहन (पूर्व में जम्मू-कश्मीर के गवर्नर) के समय को लागू किया जा रहा है।

लश्कर का बयान

लश्कर की ओर से भारत पर आरोप लगाया गया है कि पिछले 7 दशक से भारत जम्मू कश्मीर में उत्पीड़न कर रहा है। लोगों को ईद और जुमे की नमाज भी नहीं करने दी जा रही है। सेना के द्वारा कश्मीरियों की सोच को दबाया जा रहा है।

रमजान के मौके पर लागू किए गए सीजफायर को लश्कर ने पूरी तरह से ड्रामा बताया। उन्होंने कहा कि भारत कश्मीर में अपने एजेंडे को लागू करने में लगातार फेल होता आ रहा है।

आतंकी संगठन का गुलाम नबी आजाद के बयान का समर्थन करना शर्मनाक

वहीं भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने भी लश्कर द्वारा कांग्रेस के बयान का समर्थन किए जाने पर हमला बोला है। पात्रा ने लिखा कि आतंकी संगठन का गुलाम नबी आजाद के बयान का समर्थन करना काफी शर्मनाक है।

new jindal advt tree advt
Back to top button