छत्तीसगढ़

नगरीय निकाय चुनावों के आरक्षण तय होने के बाद अब राजनीतिक दलों के नेता हुए सक्रिय

मनीष शर्मा:

मुंगेली:  छत्तीसगढ़ में विधानसभा और लोकसभा चुनावों के बाद नगरीय निकाय में सरकार बनाने के लिए राजनीतिक पार्टियां जोर आजमाइश करेंगी। नगर पालिका मुंगेली के अध्यक्ष पद अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित हो गया है।

आरक्षण प्रक्रिया पूरी होने के बाद राजनीतिक दलों के नेता सक्रिय हो गए हैं। नगर के चौक चौराहों में आगामी नगरीय निकाय चुनाव के लिए जमकर चर्चाएँ शुरू हो चुकी है। लोगों में अब दो बड़े राष्ट्रीय पार्टियों द्वारा कवर्धा नगर पालिका में अध्यक्ष पद के लिए उतारे जाने वाले अभ्यर्थी को लेकर कयास लगाना शुरू हो चूका है।

वहीँ अपनी अपनी पार्टी में भी पार्टी के नेताओं, कार्यकर्ताओं द्वारा अपने मनपसंद अभ्यर्थी को टिकट दिलाये जाने को लेकर कवायद शुरू की जा चुकी है। इस बार नगर पालिका में अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने भाजपा की ओर से रिटायर्ड शिक्षक संतुलाल सोनकर, पूर्व पार्षद मोहन मल्लाह, विनोद यादव, रामशरण यादव मुख्य दावेदार के रूप में देखा जा रहा है।

वहीं कांग्रेस की ओर से पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष अनिल सोनी, पार्षद अरविंद वैष्णव, संजय जायसवाल, सोम वर्मा की दावेदारी प्रबल मानी जा रहा है। वही इस बार के चुनाव में तीसरी पार्टी जनता कांग्रेस से युवा नेता राजशेखर यादव अपनी दावेदारी कर रहे है। 

 

महीनों से चल रहा है मंथन….

नगर पालिका अध्यक्ष प्रत्याशियों के लिए पिछले कई माह से मंथन चल रहा है। नगर पालिका चुनाव के लिए कई बार मीटिंग कर चुके है और आने वाले समय मे भी मंथन चलेगा इसके बाद नाम फाइनल किए जाएंगे। प्रत्याशी का नाम प्रदेश अध्यक्ष एवं प्रदेश स्तर के बड़े नेताओं को भेजा जाएगा, वहीं से ऐलान किया जायेगा।

Tags
Back to top button