विराट कोहली के फिटनेस का जानें राज, ये डाइट करते है फॉलो

जिसे पिछले कई महीनों से वह फॉलो कर रहे हैं।

इंडियन क्रिकेटर टीम के कप्तान विराट कोहली अक्सर अपनी फिटनेस को लेकर जागरूक रहते है। यहीं वजह है वह क्रिकेट पिच पर जोश और जूनून के साथ खेलते है।

आपको बता दें कि इन दिनों विराट अपनी वेगन डाइट को लेकर काफी चर्चा में हैं, जिसे पिछले कई महीनों से वह फॉलो कर रहे हैं।

बताया जा रहा है कि उनकी फिटनेस सीक्रेट ही वेगन डाइट है। चलिए जानते है क्या है यह डाइट और इसको लेने के फायदे।

क्या है वेगन डाइट?

वेगन डाइट का मतलब है पूरी तरह से शाकाहारी भोजन जो इन दिनों काफी लोकप्रिय हो रही है। विराट कोहली का कहना है
कि वेगन डाइट प्लांट बेस्ड डाइट है जिसमें सब्जियां, फल, अनाज, बीन्स, हरी सब्जियां, नट्स, सीड्स, टोफू और प्लांड बेस्ड ऑयल शामिल होते हैं।

लोग विभिन्न कारणों से वेगन डाइट को फॉलो करते हैं। इसके अलावा इसका फायदा है कि इससे बॉडी को कैलोरी तो मिलती लेकिन फैट जमा नहीं होती।

इसमें फाइबर और प्रोटीन भरपूर मात्रा में होते हैं जो फिट रखने के साथ-साथ बीमारियों से मुक्त रखते हैं।

जानिए, वेगन डाइट के प्रकार-

होल-फूड वेगन डाइट :

विभिन्न पौधों जैसे कि फल, सब्जियां, साबुत अनाज, फलियां, नट्स और बीजों पर आधारित आहार होल-फूड वेगन डाइट होती है।

रा-फूड वेगन डाइट :

इसमें कच्चे फल, सब्जियां, नट्स, बीज या पौधों पर आधारित शाकाहारी आहार शामिल होते हैं जिन्हें 118 °F से कम तापमान पर पकाकर खाया जाता है।

वेगन डाइट :

इसमें वसा युक्त पौधों जैसे नट और एवोकाडो की मात्रा सीमित व कच्चे फलों और नरम साग भरपूर मात्रा में शामिल होते हैं। इसके अलावा इसे कम वसा, रा-फूड वेगन डाइट या फूड डाइट भी कहा जाता है।

स्टार्च घोल वाली वेदन डाइट :

इस डाइट में भी 80/10/10 के समान कम वसा, उच्च कार्ब वाले शाकाहारी आहार शामिल होते हैं लेकिन इसमें फलों के बजाएं पके हुए स्टार्च जैसे आलू, चावल और मकई शामिल होता है।

थ्राइव डाइट :

थ्राइव डाइट एक रॉ-फूड वेगन डाइट है। इसमें प्‍लांट बेस्‍ड फूड खाए जाते है। इसके अलावा कम तापमान में पके हुए फूड्स भी इस डाइट में शामिल होते हैं।

वेगन डाइट लेने के जबरदस्त फायदे बढ़ते वजन को घटाएं :

प्लांट बेस्ड फूड्स फाइबर से भरपूर होते हैं जो इस डाइट का अहम हिस्सा है। इसके सेवन से पेट जल्द भर जाता है और दिनभर भूख कम लगती है और मोटापा धीरे-धीरे कम होने लगता है।

बॉडी करें डिटॉक्स :

वेगन डाइट में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन्स और मिनरल्स से भरपूर फूड्स बॉडी डिटॉक्स करने में मदद करते है जिससे शरीर स्वस्थ रहता है।

शरीर की एनर्जी बढ़ाएं :

इस डाइट में प्रोटीन और आयरन भी भरपूर होता हैं जिससे शरीर को ऊर्जा मिलती रहती है। इसके अलावा इससे थकावट कम महसूस होती है और शरीर में मजबूती बनी रहती है।

दिल को रखें स्वस्थ :

वेगन डाइट में सैचुरेटेड फैट वाले फूड्स कम शामिल होते है जिसे फॉलो करने से दिल स्वस्थ बना रहता है और दिल की बीमारियों का खतरा कम होता है।

अच्छी नींद दिलाएं :

जिन लोगों को अक्सर अनिद्रा की समस्या रहती है उनके लिए भी वेगन डाइट काफी फायदेमंद है क्योंकि इसमें ऐसे फूड्स होते हैं जो अच्छी नींद दिलाने में मदद करते हैं।

बेहतर पाचन क्रिया :

वेगन डाइट में भरपूर फाइबर होने के कारण डाइजेस्टिव सिस्टम मजबूत बनता है और खाना पचाने में आसानी होती है।

हाई ब्लड प्रेशर से निजात :

इस डाइट को लेने से हमारा शरीर कॉम्लेक्स कार्बोहाइड्रेट की मात्रा को ग्रहण कर लेता हैं जिससे हाई ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है। अगर आप भी इस समस्या से जूझ रहे है तो यह डाइट फॉलो कर सकते हैं।

डिप्रेशन से मिलेगी न‍िजात :

फल, सब्जियां और मेवों से भरपूर यह डाइट लेने से शरीर को भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स और ओमेगा-3 मिलता है जिससे एंग्जाइटी की समस्या तो दूर होती है साथ ही डिप्रेशन से ग्रस्त लोगों को अच्छा महसूस होता है।

1
Back to top button