बप्‍पा से सीखें ये 5 बातें, लाइफ में हमेशा रहेंगे पॉजिटिव और हैप्‍पी

Ganpati Visarjan: देशभर में गणेश महोत्‍सव धूमधाम से मनाया जा रहा है. दस दिनों के इस उत्‍सव में लोगों ने भक्ति भाव से बप्‍पा की आराधना की. हालांकि, कोरोना (Corona) महामारी के इस दौर में यह प्रयास किया गया कि लोग घर के अंदर ही गणपति पूजन करें और जहां तक हो सके बाहर भीड़-भाड़ में जाने से बचें. ऐसे में सामाजिक अलगाव (Social distancing) और अकेलापन अगर आपको परेशान कर रहा है तो आप विवेक और मानसिक संतुलन को बनाए रखने के लिए गणपति बप्‍पा (Lord Ganesha) से कुछ सीख ले सकते हैं. बता दें कि भगवान गणेश विघ्नहर्ता होने के साथ एक शिक्षक भी हैं जो हमें जीवन (Life) को बेहतर तरीके से जीने की सीख देते हैं. आज यानी गणेश विसर्जन के दिन गणपति को भले ही विदा कर रहे हों लेकिन उससे पहले उनकी कई आदतों को अपना लें.

कोरोना महामारी के इस दौर में बप्‍पा से सीखें ये बातें

1. कर्तव्यों का करें पूरी निष्ठा से पालन

जब भी हमें कोई जिम्‍मेदारी दी जाए तो यह जरूरी है कि हम उसे पूरी निष्‍ठा के साथ पूरा करें. भगवान गणेश और माता पार्वती की कई कथाओं से हमें यह ज्ञान मिलता है कि जब आप अपने बड़ों की आज्ञा का पालन करते हैं और दी गई जिम्‍मेदारियों को निभाते हैं तो वे भी आपके हक में लड़ने को तैयार रहते हैं. ऐसे में जरूरत से ज्‍यादा लॉजिक ढूंढने की बजाए सीनियर्स को फॉलो करें. ऐसा करने से आप तनावमुक्त रहेंगे और बेहतर माहौल में काम कर पाएंगे.

2. रिश्तों का करें सम्मान

भगवान गणेश हमें रिश्तों का सम्मान करना सिखाते हैं. फिर चाहें वह माता-पिता का रिश्‍ता हो या नन्हें मूषक दोस्त का. वे प्रथम पूजनीय होने के बाद भी अपने रिश्तों को सम्मान देना नहीं छोड़ते. इसी तरह आपकी पोजीशन चाहे कितनी भी बड़ी हो, अपने सहकर्मियों, दोस्‍तों और परिवार को महत्‍व दें आरे रिश्तों के बीच अहंकार न आनें दें.

3. माफ करना सीखें

जिस प्रकार भगवान गणेश ने चंद्रमा की गलतियों को माफ किया था उसी प्रकार लोगों को माफ करना सीखें. अगर आपके साथ कभी किसी ने बुलिंग की हो तो उसे पकड़ कर न बैठें. इस तरह आपकी मेंटल हेल्थ प्रभावित हो सकती है. इसलिए अपने दोस्तों, सहकर्मियों और जूनियर्स को भी एक निश्चित सीमा में एक छोटी सी चेतावनी के साथ माफ करना सीखिए.

4. प्रोजेक्ट को करें पूरा

कई बार चीजें शुरू तो हो जाती हैं लेकिन हम उन्‍हें पूरा नहीं कर पाते और वैसे ही छोड़ देते हैं. उदाहरण के तौर पर फिटनेस रुटीन, वॉक, कोई हॉबी क्लास या फिर ऑफिस प्रोजेक्ट. भगवान गणेश हमें यह सीख देते हैं कि जो काम हाथ में लिया है उसे पूरा करने के बाद ही चैन लें.

5. सेल्‍फ रिस्‍पेक्‍ट जरूरी

हमें अपने स्वाभिमान की रक्षा करना ही चाहिए. कोरोना महामारी के कारण बहुत से लोगों को नौकरियों से हाथ धोना पड़ा है और इस वजह से कई लोग शर्मिंदगी में जी रहे हैं. ऐसा न करें. आज खुद पर भरोसा रखें और मौका तलाशते रहें. अपने सम्मान को बचाए रखने के लिए यह बहुत ही जरूरी है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button