केंद्रीय पैनल के सभी चार पदों पर वामपंथी छात्र संगठनों ने जीत दर्ज की

जेएनयू छात्र संघ चुनाव: वाम एकता को मिलीं केंद्रीय पैनल की सभी चार सीटें

नयी दिल्ली: वामपंथी छात्र संगठनों – आइसा, एसएफआई, एआईएसएफ और डीएसएफ – के संयुक्त मोर्चा (वाम एकता) ने जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्र संघ (जेएनयूएसयू) चुनावों में केंद्रीय पैनल के सभी चार पदों पर जीत दर्ज की। जेएनयूएसयू चुनाव संपन्न कराने के लिए गठित चुनाव समिति ने रविवार को यह घोषणा की।

वाम एकता की तरफ से अध्यक्ष पद के उम्मीदवार एन. साई बालाजी को 2,161 वोट मिले और उन्होंने इस पद पर जीत दर्ज की जबकि उपाध्यक्ष पद के लिए वाम एकता की उम्मीदवार सारिका चौधरी सबसे अधिक 2,692 वोट हासिल कर विजयी हुईं।

महासचिव पद के लिए वाम एकता के उम्मीदवार ऐजाज अहमद को 2,423 वोट मिले और उन्होंने इस पद पर जीत दर्ज की। वाम एकता की तरफ से संयुक्त सचिव पद की उम्मीदवार अमुथा को 2,047 वोट मिले और उन्होंने भी जीत हासिल की।

वाम समर्थित ऑल इंडिया स्टूडेंट्स असोसिएशन (आइसा), स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (एसएफआई), डेमोक्रेटिक स्टूडेंट्स फेडरेशन (डीएसएफ) और ऑल इंडिया स्टूडेंट्स फेडरेशन (एआईएसएफ) ने वाम एकता (लेफ्ट यूनिटी) नाम का गठबंधन बनाकर जेएनयूएसयू चुनाव लड़ा था।

वाम एकता के अलावा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की छात्र इकाई अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी), कांग्रेस की छात्र इकाई नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (एनएसयूआई) और बिरसा आंबेडकर फुले स्टूडेंट्स असोसिएशन (बापसा) के भी उम्मीदवार चुनावी मैदान में थे।

शुक्रवार को हुए जेएनयूएसयू चुनाव में 67.8 फीसदी मतदान हुआ था, जिसे पिछले छह साल में सबसे अधिक बताया गया। 5,000 से ज्यादा छात्रों ने अपने वोट डाले थे।

Tags
Back to top button