आइए जानते है बच्चों को तकिए पर सुलाने के नुकसान हो सकती है हड्डियां कमजोर

फैंसी तकियों का ना करे इस्तेमाल

किसी दपत्ति के यदि बच्चे बहुत छोटे होते है, उनका ख्याल रखने में पेंरेटस को थोड़ी परेशानी जरूर होती है। पेरेंटस की सबसे बड़ी जिम्मेदारी बच्चे के सेहत का ध्यान इसके साथ बच्चों को सुलाने में होने वाली परेशानियों से सभी पेरेंटस अच्छे से वाकिफ है। बच्चों को सुलाते समय हम उनको तकिे पर सुलाते है,पर तकिए पर सुलाने से बच्चें की सेहत पर इसका गलत इफेक्ट पर सकता है।

छोटे बच्चे का शरीर बहुत नाजुक होता है। जब हम बच्चे को तकिए पर सुलाते हैं उसकी श्वास नलीं अंदर से मुंडकर दब भी सकती हैं। इससे बच्चे को सांस लेने में तकलीफ होगी। सांस न आने से बच्चे की मौत भी हो सकती है।

आजकल ज्यादातर घरों में फैंसी तकियों का ही इस्तेमाल किया जाता है। ये तकिए बहुत गर्म होते हैं। जब बच्चों को इन तकिए पर सुलाया जाता है तो उनके सिर में ज्यादा गर्मी पहुंचती है। इससे उनको नुकसान हो सकता है। कई बार इससे बच्चे की जान भी जा सकती है।

तकिए पर बच्चे को सुलाने से गर्दन मुड़ने का डर बना रहता है। बच्चे के गले के आसपास की हड्डियां बहुत कमजोर होती है। अगर यह खिसक जाए तो बच्चे को बहुत डर लगता है.


#पेरेंटस

Back to top button