“जिंदगी मेरी निकल गई, मैं जी नहीं पाया”

हेमचंद यादव का पार्थिव शरीर कल शाम दिल्ली से विशेष विमान में रायपुर एयरपोर्ट लाया गया

रायपुर: छत्तीसगढ़ के पूर्व कैबिनेट मंत्री और भाजपा के नेता हेमचंद यादव का पार्थिव शरीर कल शाम दिल्ली से विशेष विमान में रायपुर एयरपोर्ट लाया गया. जहा मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह, भाजपा प्रदेशप्रभारी अनिल जैन सहित मंत्रिमंडल के सदस्य मैजूद थे.

हंसमुख स्वभाव के पूर्व कैबिनेट मंत्री हेमचंद यादव का पार्थिव शरीर बहार लाया गया तो सभी नेताओं की आंखें नम हो गई. सभी ने पार्थिव शरीर को पुष्पांजलि अर्पित और आत्मा की शांति के लिए प्राथना की.

आपको बता दे कि लम्बी बीमारी के बाद हेमचंद यादव का निधन हुआ, पहले उनका इलाज रायपुर के एक निजी अस्पताल में हो रहा था. जब स्वास्थ में कोई सुधर नी हुआ तो उन्हें मुंबई के हॉस्पिटल में भरती किया गया. मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह की प्रेम प्रकाश पाण्डेय और बृजमोहन अग्रवाल ने सुझाव दिया तब उन्हें दिल्ली के एम्स में भरती कराया गया. जहा उनका इलाज चला. इलाज के दौरान जब उनकी तबियत ज्यदा ख़राब हुई तो उन्हें वेन्टी लेटर पर रख दिया गया. वेन्टीलेटर पर रखने के उनका बीपी डाउन गिरने लगा. जिससे की मल्टीपल आर्गन फेल होता गया और लम्बी बीमारी के बाद बुधवार रात 1 बजे उनका निधन हो गया.

खबरों के मुताबिक हेमचंद यादव को एस्थेमिया गेविस नाम की बीमारी थी, एम्स में ईलाज के दौरान उनकी तबियत ठीक होने लगी. लेकिन फिर 15 दिन उन्हें डेंगु हुआ. जिससे उनका डब्लूबीसी बढ़ गया और इन्फेक्शन हो गया. इलाज के दौरान कई डाक्टरों को दिखाया लेकिन कोई भी डॉक्टर उनकी बीमारी को ठीक नहीं कर पाया. कुछ डॉक्टरों ने बोनमेरो का प्राब्लम, तो कुछ ने किडनी इन्फैक्शन, किसी ने टीबी किसी ने कैंसर तक बताया. आईसीयू में भर्ती होने की जानकारी पाते ही प्रकाश पाण्डेय और बृजमोहन अग्रवाल को हुई. वे सुबह 5 बजे ही एम्स पहुंच गए. और आईसीयू में गए दोनों हेमचंद यादव देखने गए और रोते-रोते बाहर आ गए.

Back to top button