आज सुबह दिल्ली और एनसीआर में हल्की बारिश से प्रदूषण स्तर में कमी की उम्मीद

हालांकि वायु गुणवत्ता अब भी बेहद खराब बनी हुई

नई दिल्ली: दिल्ली और आसपास के क्षेत्रों में आसमान में दमघोंटू धुंध की घनी चादर छाई रही और वायु की गुणवत्ता खतरनाक ‘गंभीर श्रेणी’ में पहुंच गई. इसके बाद ईपीसीए ने ‘सार्वजनिक स्वास्थ्य आपात स्थिति’ घोषित कर दी. दिल्ली सरकार ने शुक्रवार को दिल्ली के सभी स्कूलों को 5 नवंबर तक बंद करने के आदेश दिए थे.

इसके अलावा दिल्ली सरकार ने चार नवंबर से 15 नवंबर तक राष्ट्रीय राजधानी में वाहनों की ऑड-ईवन योजना लागू करने के लिए शुक्रवार को अधिसूचना जारी कर दी. इस क्रम में आज रविवार सुबह दिल्ली और एनसीआर में हल्की बारिश होने से प्रदूषण के स्तर में कुछ कमी आने की उम्मीद जताई जा रही है. हालांकि वायु गुणवत्ता अब भी बेहद खराब बनी हुई है.

रविवार सुबह दिल्ली (Delhi) में पीएम 10 का लेवल 411 (बहुत खराब) और पीएम 2.5 का लेवल 260 (गंभीर) था. सोमवार को प्रदूषण में कुछ कमी आ सकती है और वायु गुणवत्ता भी सुधर सकती है.

रविवार को दिल्ली के चांदनी चौक में पीएम 2.5 का लेवल 388 (बहुत खराब) और पीएम 10 का लेवल 424 (गंभीर) रहा. पूसा में पीएम 2.5 का लेवल 403 (गंभीर), पीएम 10 का लेवल 397 (बहुत खराब) रहा.

दिल्ली एयरपोर्ट पर पीएम 2.5 का लेवल 395 और पीएम 10 का लेवल 332 रहा. आईआईटी में पीएम 2.5 का लेवल 385 पीएम 10 का लेवल 409 रहा. मथुरा रोड पर पीएम 2.5 का लेवल 429 और पीएम 10 का लेवल 430 रहा.

वहीं लोधी रोड पर पीएम 2.5 का स्तर 402 और पीएम 10 का स्तर 312 आंका गया. दिल्ली यूनिवर्सिटी में पीएम 2.5 का लेवल 441 और पीएम 10 का लेवल 432 आंका गया. नोएडा में हालात और भी खराब है यहां पीएम 2.5 का लेवल 482 और पीएम 10 का लेवल 489 रहा.

Tags
Back to top button