छत्तीसगढ़बड़ी खबरराजनीति

छत्तीसगढ़ में धान की खरीदी शेर की सवारी-चंद्राकर

जब विधानसभा में पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर हो गए शायराना, पहले ग़ालिब की शेर पढ़े, फिर बोले- छत्तीसगढ़ में धान की खरीदी शेर की सवारी है

रायपुर: विधानसभा में विधायक अजय चंद्राकर ने शायरी के माध्यम से राज्य सरकार पर निशाना साधा. अजय चंद्राकर ने मिर्जा ग़ालिब की शेर पढ़ते हुए कहा कि उम्र भर हम यही गलती करते रहे, धूल चेहरे पे थी और हम आईना साफ करते रहे. उन्होंने आगे कहा कि छत्तीसगढ़ में धान की खरीदी शेर की सवारी है.

मुख्यमंत्री ने पद और गोपनीयता की शपथ का उल्लंघन किया है. किसानों के मुद्दे को राजनीतिक स्वरूप दिया गया. सोसाइटी और राजस्व विभाग में केवल 25% ही किसान पंजीकृत हैं. धान खरीदी के लिए केवल 3 दिन ही बाकी है ऐसे में कौन से किसान धान बेचेंगे.

अजय चंद्राकर ने आगे कहा कि किसानों के साथ गम्मत करने वाली सरकार, किसानों के स्थाई हल की ओर नहीं बढ़ रही है. आज प्रशासन के पास एक भी जनहित के कार्य नहीं है. राज्य सरकार नाटक कर रही है. 10 से 15 दिन ही किसानों की धान की खरीदारी होगी.

Tags
Back to top button