रायपुर: भगवान राम के ननिहाल ग्राम चंदखुरी क्षेत्र में शराब कोचिये सक्रिय

रायपुर. मंदिरहसौद थाना क्षेत्र के‌ अंतर्गत आने वाले भगवान राम के ननिहाल ग्राम चंदखुरी सहित क्षेत्र में असामाजिक तत्व सक्रिय हैं और खासकर अवैध शराब कोचिये। अवैध शराब बिक्री पर रोक लगाने के लिये प्राथमिक रूप से उत्तरदायी आबकारी अमला की क्षेत्र में निष्क्रीयता चर्चा का विषय है और इधर क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों के आग्रह पर नवपदस्थ थाना प्रभारी विरेन्द्र चंद्रा के निर्देश पर सक्रिय अमला ने बीते कल शुक्रवार को अवैध शराब बिक्री से त्रस्त मुनगेसर के एक और शराब कोचिया को मंदिरहसौद में ही स्कूटी में 30 पौव्वा शराब ले जाते पकड़ने में सफलता हासिल की है।

ज्ञातव्य हो कि बीते माह ही पूर्व थाना प्रभारी अश्वनी राठौर के कार्यकाल में थाना अमला ने इसी ग्राम के एक और कोचिया उत्तम ध्रुव को 40 पौव्वा शराब के साथ रास्ते में ही धर दबोचा था। आरक्षक हीरा ठाकुर के टीम के सपड़ में आये शराब कोचिया 65 वर्षीय मेहत्तर बंजारे को आबकारी अधिनियम की धारा 34 ( 2 ) के गैरजमानतीय अपराध के आरोप में गिरफ्तार कर स्कूटी सी जी 4 एम जेड 9892 को भी जप्त कर लिया गया है । आज उसे न्यायालय में पेश किया जावेगा ।

मंदिरहसौद थाना क्षेत्र के‌ अंतर्गत आने वाले 1500 आबादी वाले इस छोटे से ग्राम मुनगेसर व इसके आसपास के ग्राम चंदखुरी फार्म , भगवान राम के ननिहाल ग्राम चंदखुरी , मुनगी , बड़गांव ,जुगेसर व कुटेसर सहित क्षेत्र के‌ ग्रामों में बिक रहे अवैध शराब , गांजा व होने वाले जुआ का मसला बीते दिनों नवपदस्थ थाना प्रभारी विरेन्द्र चंद्रा द्वारा आहूत क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों की बैठक में जोर-शोर से उठाया गया था और क्षेत्र में अमन-चैन कायम रखने इन असामाजिक गतिविधियों में लिप्त तत्वो पर बिना किसी दबाव के कार्यवाही करने व समर्थन का पूर्ण सहयोग का आश्वासन दिया गया था। सी एस पी लालचंद मोहिले की उपस्थिति मे संपन्न हुये इस बैठक मे सरपंच संघ के अध्यक्ष गोपाल धीवर व क्षेत्र में शराब विरोधी मुहिम में जुटे किसान संघर्ष समिति के संयोजक भूपेन्द्र शर्मा सहित कई क्षेत्रीय पंचायत प्रतिनिधि भी मौजूद थे।

अधिकारीद्वय ने जनभावना के अनुरूप व इन असमाजिक ‌‌‌गतिविधियों की वजह से कानून व्यवस्था की‌ स्थिति निर्मित न होने देने का आश्वासन देते हुये सख्त कार्यवाही का आश्वासन देते हुये जनप्रतिनिधियों से इनमें अंकुश लगाने सहयोग का आग्रह किया था। चंद्रा के पदस्थापना के बाद आबकारी अधिनियम की धारा 34 (2 ) के तहत यह दूसरा मामला पकड़ में आया है। इसके पहले मुनगी के‌ एक किराना दूकानदार को अपने एक साथी के साथ मोटरसाइकिल में शराब ले गांव वापस लौटते रास्ते में पकड़ा गया था। बहरहाल इस ग्राम मुनगेसर में 8 से 10 कोचियों के सक्रिय रहने की जानकारी ग्रामीण देते हैं।

त्रस्त ग्रामीणों ने ग्राम के निवासी सेवानिवृत्त पुलिस महानिरीक्षक प्रदीप नारायण तिवारी से भी इसकी शिकायत करते हुये ग्राम को असामाजिक गतिविधियों से ग्रामहित में मुक्ति दिलवाने सहयोग का आग्रह किया है। इधर शर्मा ने चंदखुरी के ग्रामीणों की मांग पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल व क्षेत्रीय विधायक तथा नगरीय प्रशासन एवं श्रम मंत्री शिव डहरिया द्वारा अवैध शराब बिक्री पर रोक लगाने आबकारी अमला को निर्देशित करने के बाद भी इस पर आज तक रोक न लग पाने की ग्राम के जागरूक ग्रामीणों से मिली जानकारी के हवाले से कहा है कि संभवत आबकारी विभाग प्रदेश में अन्य राज्यों के शराब की तस्करी पर रोक लगा छग की शराब की खपत बढ़ाने की जुगत में लगा है और इसी वजह से अवैध बिक्री को अनदेखा किया बैठा है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button