बिहार: सिलिंडर, ऐंबुलेंस, कैश वैन… अब तेल के टैंकर से शराब की तस्करी

टैंकर के बीच के सेक्शन में शराब रखी थी जबकि पहले और आखिरी सेक्शन में लूब्रिकेंट रखा गया था

बिहार: सिलिंडर, ऐंबुलेंस, कैश वैन… अब तेल के टैंकर से शराब की तस्करी

बिहार में शराबबंदी के बाद लोग तरह-तरह के तरीकों से शराब हासिल करने की कोशिश कर रहे हैं। एलपीजी सिलिंडर, ऐंबुलेंस, यहां तक कि कैश ले जाने वाली वैन का इस्तेमाल करने के बाद शराब तस्करों ने अब तेल के टैंकर के अंदर शराब ले जाने की कोशिश की। गोपालगंज जिले के कृतपुरा गांव से ऐसी ही एक टैंकर शुक्रवार को सीज किया गया। टैंकर के अंदर हरियाणा में बनाई शराब के 236 डिब्बे मिले।

टैंकर के बीच के सेक्शन में शराब रखी थी जबकि पहले और आखिरी सेक्शन में लूब्रिकेंट रखा गया था। इतने पुख्ता तरीके से शराब को छिपाया गया था कि टैंकर सीज करने के बाद भी पुलिस को घंटेभर से ज्यादा का समय शराब को खोजने में लग गया।

[responsivevoice_button voice=”Hindi Female” buttontext=”अगर आप पढ़ना नहीं
चाहते तो क्लिक करे और सुने”]
बैकुंठपुर पुलिस स्टेशन के एसएचओ मुकेश कुमार ने बताया कि बीच के सेक्शन को नीचे से काटकर उसमें शराब के कंटेनर रखे गए थे। पुलिस जब टैंकर की तलाशी ले रही थी, उसे हर आउटलेट से तेल ही मिल रहा था। हालांकि, एक हिस्सा बोल्ट से जोड़ा गया था। उसे खोलने पर उसके अंदर से शराब बरामद की गई। कुमार ने बताया कि उन्हें पुख्ता जानकारी मिली थी कि टैंकर में शराब लाई जा रही है।

उन्होंने बताया कि चालक के सहायक भूपेंद्र सिंह को गिरफ्तार किया गया है। वह हरियाणा के हिसार का रहनेवाला है। टैंकर पर रजिस्ट्रेशन नंबर भी हरियाणा का था। पुलिस के मुताबिक कुछ स्थानीय लोगों पर भी शक है और उन पर नजर रखी जा रही है।

वहीं, बेगूसराय में भी एक चावल के ट्रक में शराब के 397 कार्टन ले जाने की बात तब सामने आई जब ट्रक नौटोलिया में एक गड्ढे में गिर गया। सेहबपुर कमाल पुलिस स्टेशन के एसएचओ ने बताया कि शराब के कार्टन चावल के बोरों के नीचे छिपाकर रखे गए थे। शराब पंजाब से लाई गई थी। ट्रक पुलिस से बचकर भागने की फिराक में पलट गया। मामले में ट्रक चालक समेत तीन अन्य लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

advt
Back to top button