उत्तर प्रदेशराज्य

पुलिस टीम पर शराब माफिया ने किया हमला, एक पुलिसकर्मी की मौत

शराब माफिया की ओर से किए गए हमले में घायल पुलिसकर्मियों का निजी अस्पताल में इलाज चल रहा

कासगंज:उत्तर प्रदेश के कासगंज में पुलिस टीम पर शराब माफिया द्वारा हमला किये जाने के बाद एक पुलिसकर्मी की मौत हुई. वहीँ गुजरात के सूरत में भी एक शराब माफिया ने दो पुलिसकर्मियों को कुचल कर मार डालने का प्रयास किया.

शराब माफिया की ओर से किए गए हमले में घायल पुलिसकर्मियों का निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है. सूरत के सचिन थाने के दो पुलिसकर्मियों को खबर मिली थी कि हाइवे की तरफ से आ रही एक क्रेटा कार में शराब रखी हो सकती है.

इसी खबर के आधार पर सचिन थाने में तैनात दो पुलिसकर्मी मयूरदान गढ़वी और रामा भाई थाना क्षेत्र के पलसाना हाइवे पर होजिवाला औद्योगिक सुसायटी के गेट नंबर-1 के सामने कार को रोककर तलाशी लेने के लिए हाइवे पर खड़े हो गए.

तभी शराब रखे कार लेकर चले आ रहे शराब माफिया सलीम अनवर फ्रूटवाला को कार रोकने को कहा गया. पुलिसकर्मियों ने जैसे ही कार तलाशी शुरू की वैसे ही शराब माफिया सलीम अनवर ने अपनी कार रिवर्स लेते हुए पुलिसकर्मियों पर चढ़ा दी.

इस वजह से दोनों पुलिसकर्मी घायल हो गए, जिसमें एक की हालत गंभीर बताई जा रही है. हालांकि बाद में कार चालक शराब माफिया को कार सहित गिरफ्तार कर लिया गया. उसके बाकी साथियों के खिलाफ भी हत्या की कोशिश और प्रोहिबिशन एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है.

सूरत पुलिस के एसीपी जय कुमार पांड्या का कहना है कि सूरत शहर के सचिन पुलिस थाने में हुई इस वारदात में आईपीसी 307 के तहत एक मामला दर्ज हुआ है. पुलिस कांस्टेबल रामा भाई वासाभाई कोडियाता ने थाने में शिकायत दर्ज करवाई है, जिसमें बताया गया कि पलसाना पुलिस से एक गुप्त सूचना मिली थी कि सफेद कलर की क्रेटा कार में अंग्रेजी शराब रखी हुई है और यह गाड़ी पलसाना से सचिन की तरफ जा रही है.

जानकारी मिलने के बाद पुलिस कांस्टेबल रामा भाई अपने सहयोगी के साथ इस गाड़ी के इंतजार में थे. होजीवाला के गेट नंबर एक के पास जब गाड़ी पहुंची तो उसे घेर लिया. इसके बाद उस गाड़ी में बैठा सलीम अनवर फ्रूटवाला ने अपनी गाड़ी को रिवर्स लेकर गाड़ी से उतरने वाले पुलिसकर्मी मयूरदान गढ़वी पर गाड़ी चढ़ाने की कोशिश की, जिसमें मयूरदान जख्मी हो गए. उन्हें तुरंत आईएनएस हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया.

साथ ही आरोपी सलीम के खिलाफ आईपीसी 307 के तहत मामला दर्ज किया गया है और उसके साथ एक अन्य आरोपी जावेद अंसारी के खिलाफ भी 307 के तहत मामला दर्ज किया गया है. इसके अलावा इन दोनों पर गुजरात प्रोहिबिशन एक्ट के तहत भी मामला दर्ज किया गया है.

इस वारदात में शामिल और शराब मंगवाने वाला फिरोज फ्रूटवाला तथा निरंजन गांधी उर्फ निरंजन मालिया और माल भेजने वाला संजय मारवाड़ी के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. पुलिस ने इस मामले में क्रेटा गाड़ी के साथ 9 लाख रुपये का माल पकड़ा है. इन आरोपियों द्वारा इससे पहले भी इस तरह से पुलिस पर हमला किया जा चुका है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button