छत्तीसगढ़

शराब दुकानें होगी बंद, सरकार ने इस जिले से की शुरूआत

धमतरी। प्रदेश में सत्तारूढ़ कांग्रेस सरकार छत्तीसगढ़ में 50 देशी शराब दुकानें बंद करेगी, जिसमें धमतरी जिले का 1 दुकान भी शामिल है। गोकुलपुर वार्ड में संचालित देशी शराब दुकान का नए वित्तीय वर्ष से संचालन नहीं होगा। इसके लिए शासन से निर्देश प्राप्त हो चुका है।

विधानसभा चुनाव के घोषणा पत्र में कांग्रेस ने शराब बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने का घोषणा की थी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने वादे को निभा दिया है। उल्लेखनीय है कि जिले में 27 शराब दुकानें है, जिसमें 18 देशी और 9 अंग्रेजी शराब दुकान शामिल हैं। इन शराब दुकानों से हर महीने शासन को लाखों रुपए का राजस्व मिलता है। कुछ दुकानें ऐसी हैं, जहां बिक्री बहुत कम होती है। शासन ने ऐसी दुकानों की जानकारी आबकारी विभाग से मांगी थी।

सूत्रों की माने तो छाती और गोकुलपुर शराब दुकान शासन निर्धारित कंडिशन में आ रही थी। इनमें से पहली प्राथमिक गोकुलपुर शराब दुकान को दी गई है। इस तरह नए वित्तीय वर्ष से जिले में शराब दुकानों की संख्या 26 हो जाएगी। इससे शासन को मिलने वाले राजस्व कम हो जाएगा।

उल्लेखनीय है कि गोकुलपुर शराब दुकान को हटाने की मांग वार्डवासी भी कर रहे थे, जो अब पूरी हो गई है। वार्डवासी जगत राम साहू और राजेश कुमार का कहना है कि शराब दुकान बंद होने से उन्हें काफी राहत मिलेगी। शराबियों का जमावड़ा अब नहीं लगेगी। फिर से वार्ड में शांति व्यवस्था कायम होगा। शासन ने शराब बंदी को लेकर अच्छा कदम उठाया है।

गोकुलपुर शराब दुकान को बंद करने का निर्देश प्राप्त हो गया है। नए वित्तीय वर्ष में इसका संचालन नहीं होगी।
एमके जायसवाल, अधिकारी आबकारी विभाग

Tags
Back to top button