छोटे बच्चों की देर तक रोने की आदत होती है जानलेवा

छोटे बच्चों की देखभाल करना थोड़ा मुश्किल काम होता है।

खासकर उन महिलाओं के लिए जो पहली बार मां बनी हो। उनको पता ही नहीं होता की बच्चे को कैसे सुलाना है, कैसे नहलाना है। आसान भाषा में कहें तो उनको बच्चे का ध्यान कैसे रखना है इस बात की कोई जानकारी नहीं होती। कई बार मां द्वारा अनजाने में की गई कुछ गलतियां बच्चे के लिए खतरनाक हो सकती हैं। अगर आप भी पहली बार मां बनने वाली हैं तो इन छोटी-छोटी बातों का जरूर ख्याल रखें।

तो आइए जानते हैं आपको बच्चे की परवरिश करते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

1. बच्चे को देर तक रोने न दें

 

जब भी बच्चा ज्यादा देर तक रोता है तो उसका स्ट्रेस लेवल बहुत ज्यादा बढ़ जाता है। एेसा होने पर उसके शारीरिक और मानसिक विकास पर असर पड़ता है। इसके साथ ही बच्चे के साथ जितना हो सके उतना समय बिताएं।

2. बच्चे को पेट के बल ना सुलाएं

बच्चे को कभी भी पेट के बल ना सुलाएं। इस तरह सोने से बच्चे के पेट पर जोर पड़ता है जिससे उसको पाचन संबंधित समस्याएं हो सकती हैं। बच्चे को हमेशा सेहतमंद रखने के लिए उसका मुंह ऊपर की ओर करके ही लिटाएं।

3. बच्चे को अकेला ना छोड़ें

 

कुछ लोगों को लगता है कि बच्चा छोटा वह अपनी जगह से हिल नहीं सकता। मगर आपका एेसा सोचना एक दम गलत है। छोटे बच्चे आसानी से करवट लें सकते हैं, जिससे उनके गिरने का खतरा बना रहता है इसलिए बच्चे को कभी अकेला ना छोड़ें।

4. बच्चे को जोर से झटकें ना

बच्चे को भूलकर भी जोर से झटकें ना क्योंकि उनके शरीर के अंग बहुत ज्यादा नाजुक होते हैं। बच्चों को तेजी से झटकने या फिर हिलाने से उनके शरीर के अंगों को नुकासन हो सकता है।

5. दूध पिलाने के बाद बच्चे को डकार जरूर दिलवाएं

बच्चे को दूध पिलाने के बाद उनको डकार जरूर दिलवाएं। एेसे करने से उनके पेट में पैदा होने वाली गैस निकल जाएगी। इसके साथ ही इस बात का भी ध्यान रखें कि बच्चे को दूध पिलाने के बाद एक-दम से सुलाएं ना।

<>

Back to top button