राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों द्वारा हंगामे के बाद वॉशिंगटन में लॉकडाउन

ट्विटर ने डोनाल्ड ट्रंप के कुछ ट्वीट्स को हटा दिया

वॉशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों द्वारा व्हाइट हाउस और कैपिटोल हिल्स के बाहर जमकर हंगामे के बाद वॉशिंगटन में लॉकडाउन लगा दिया गया है. वहीं ट्विटर ने डोनाल्ड ट्रंप के कुछ ट्वीट्स को हटा दिया है और उनका ट्विटर अकाउंट 12 घंटे के लिए सस्पेंड कर दिया है.

हिंसा पर उतारू समर्थकों से ट्रंप ने शांति की अपील भी की. अपने एक ट्वीट में कहा, “मैं अमेरिकी कैपिटोल में सभी से शांतिपूर्ण रहने की अपील करता हूं. हिंसा नहीं होनी चाहिए! याद रखें, हम कानून और व्यवस्था बनाए रखने वाली पार्टी हैं. कानून और महान पुरुषों व महिलाओं का सम्मान करें. धन्यवाद!”

ट्रंप के समर्थकों ने संसद में घुसकर किया हंगामा

अमेरिकी के 300 साल के इतिहास में ऐसा कभी नहीं हुआ, जब एक चुनाव हारा हुआ राष्ट्रपति अपनी हार स्वीकार करने से इनकार कर दिया हो और उसके समर्थक अमेरिकी संसद को घेर लें. बुधवार को कैपिटोल हिल्स के चप्पे-चप्पे पर राष्ट्रपति ट्रंप के समर्थक जमा हो गए. देखते ही देखते भीड़ उग्र होने लगी.

एहतियातन सुरक्षा दस्ते ने कैपिटोल हिल्स को सील कर दिया, लेकिन भीड़ बेकाबु हो गई. ट्रंप के समर्थक संसद में घुस गए, जहां दोनों सदनों (हाउस और कांग्रेस) में नए राष्ट्रपति चुनाव के नतीजों पर बहस हो रही थी. थोड़ी देर बाद संसद नतीजों पर मुहर लगाना था, तभी अचानक सुरक्षा दस्त संसद में घुस जाता है. फिर सदन के पिठासीन अधिकारी को सुरक्षित बाहर ले जाया जाता है.

संसद के अंदर घुस जाती है और एक समर्थक उपराष्ट्रपति की कुर्सी पर बैठ जाता है. उसके बाद खबर आती है कि सुरक्षाकर्मियों को एहतियातन फायरिंग करनी पड़ी. कैसे शुरू हुआ ये सब हंगामा ये सब हंगामा ट्रंप के भाषण के बाद शुरू हुआ.

बाइडेन की जीत पर संसद के फाइनल फैसले से डरे ट्रंप ने पहले ही वॉशिंगटन में एक बड़ी रैली बुलाई थी. इस रैली में आए समर्थक ट्रंप के भाषण के बाद भड़क गए. ट्रंप ने सीधे-सीधे कह दिया कि अमेरिकी चुनाव में धांधली हुई है और बाइडेन के वोट कंप्यूटर से आएं हैं. ट्रंप ने ये मानने से ही इमकार कर दिया कि बाइडेन को 8 करोड़ वोट मिले हैं.

इधर ट्रंप भाषण दे रहे थे, उधर भीड़ ट्रंप-ट्रंप के नारे लगा रही थी. इसी दौरान ट्रंप समर्थक ससंद के भीतर घुस गए. हालांकि भीड़ को देखने के बाद ट्रंप ने अपने समर्थकों से शांति बनाए रखने की अपील की, लेकिन ट्रंप की अपील सिर्फ नामभर की थी.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button