लोकसभा निर्वाचन 2019 : मतगणना एजेंट के लिये अभ्यर्थी 20 मई शाम 7 बजे तक आवेदन करें

बिलासपुर : लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र बिलासपुर की मतगणना 23 मई को आईटी भवन शासकीय इंजीनियरिंग महाविद्यालय कोनी बिलासपुर में होगी। मतगणना का कार्य सुबह आठ बजे प्रारंभ होगा। अभ्यर्थियों को मतगणना एजेंट नियुक्त करने हेतु निर्धारित प्रपत्र में 20 मई को षाम 7 बजे तक आवेदन पत्र प्रस्तुत करना होगा। अभ्यर्थी द्वारा सम्बन्धित रिटर्निंग अधिकारी को प्रस्तुत करना होगा।

मतगणना के संबंध में उप जिला निर्वाचन अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि लोकसभा क्षेत्र बिलासपुर हेतु विधानसभावार मतगणना आईटी भवन के भूतल स्थित कमरों में होगी। बिलासपुर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 24 मरवाही जो लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र क्रमांक 4 कोरबा में षामिल है।

इस क्षेत्र की मतगणना कक्ष क्रमांक 3 में होगी। इसी तरह बिलासपुर लोकसभा क्षेत्र अंतर्गत विधानसभा क्षेत्र कोटा की मतगणना कक्ष क्रमांक 2, तखतपुर का कक्ष क्रमांक 7, बिल्हा का कक्ष क्रमांक 6, बिलासपुर का कक्ष क्रमांक 5, बेलतरा का कक्ष क्रमांक 4 और मस्तूरी विधानसभा क्षेत्र की मतगणना कक्ष क्रमांक 1 में होगी। इस बार सभी विधानसभा क्षेत्रों के डाक मतपत्रों की गणना एक अलग से की जायेगी।

डाक मतों की गणना कक्ष क्रमांक 11 में होगी।सभी मतगणना कक्षों में 14-14 टेबलों में मतगणना होगी। डाक मतपत्रों की गणना के लिये 5 टेबल रखे जायेंगे। प्रत्येक अभ्यर्थी ईवीएम मतगणना के लिये अधिकतम 14 तथा डाक मतों की गणना के लिये 5 मतगणना एजेंट नियुक्त कर सकते हैं।

अभ्यर्थियों को जानकारी दी गई कि मतगणना के दौरान सम्बन्धित मतगणना टेबल के लिये नियुक्त मतगणना अभिकर्ता उसी टेबल के समक्ष जाली के बाहर लगाये गये बेंच मंे बैठेंगे। उन्हें किसी दूसरे टेबल के समक्ष बैठने की और न ही षांति व्यवस्था भंग करने की अनुमति दी जायेगी।

मतगणना एजेंटो, अभ्यर्थियों एवं उनके निर्वाचन अभिकर्ताओं को मतगणना कक्ष तक पहुंचने के लिये पृथक प्रवेष द्वार आईटी भवन के पीछे निर्धारित किया गया है। उन्हें मुख्य द्वार अथवा अन्य किसी द्वार से मतगणना कक्ष में प्रवेष करने की अनुमति नहीं होगी।

मतगणना दिवस 23 मई को प्रातः 6 बजे पोस्टल बैलेट पेपर बॉक्स को कोशालय से मतगणना केन्द्र ले जाया जायेगा। कोशालय खोलते समय अभ्यर्थी या उनके निर्वाचक अभिकर्ता उपस्थित रह सकते हैं। प्रातः 7 बजे प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र हेतु निर्धारित स्ट्रांगरूम सामान्य प्रेक्षक के समक्ष खोला जायेगा।

इस समय सम्बन्धित अभ्यर्थी अथवा उसके निर्वाचन अभिकर्ता उपस्थित रह सकते है। इसके अतिरिक्त किसी अन्य व्यक्ति को उपस्थित रहने की अनुमति नहीं दी जायेगी। इस हेतु अभ्यर्थी या उसके निर्वाचक अभिकर्ता को मुख्य द्वार से प्रवेष करने की अनुमति दी जायेगी।

मतगणना केन्द्र में मोबाईल फोन, सेलफोन, कैमरा आदि की अनुमति नहीं होगी उप जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि मतगणना केन्द्र में किसी भी प्रकार का इलेक्ट्रॉनिक उपकरण, मोबाईल फोन, सेलफोन, कैमरा, कैल्कुलेटर आदि ले जाने की अनुमति नहीं दी जायेगी। न ही वीडियोग्राफी की अनुमति दी जायेगी। सम्पूर्ण मतदान प्रक्रिया की विडियोग्राफी जिला प्रषासन द्वारा कराई जायेगी तथा मतगणना के अंत में उसकी सीडी सम्बन्धित अभ्यर्थी को उपलब्ध कराई जायेगी।

डाक मतों की गणना सबसे पहले

सर्वप्रथम डाक मतपत्रों की गणना प्रातः 8 बजे से प्रारंभ की जायेगी। उसके 30 मिनट बाद प्रातः 8.30 बजे ईवीएम के मतों की गणना प्रारंभ होगी। सेवा मतदाताओं से प्राप्त पोस्टल बैलेट पेपर की वैधता की जांच भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्मित मजचइेण्पद प्रणाली द्वारा रिटर्निंग अधिकारी के आईडी से लॉग इन कर क्यू आर कोड के माध्यम से की जायेगी।

अभ्यर्थी व उनके निर्वाचन अभिकर्ता या मतगणना अभिकर्ता को भी वोटिंग मषीनें सील करते समय अपनी सीलें लगाने की अनुमति दी जायेगी। प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के 5-5 वीवीपैट का रेण्डम चयन लॉटरी से कर उसकी पर्ची से कण्ट्रोल यूनिट में डाले गये मतों का मिलान किया जायेगा। बिलासपुर जिले के 30 वीवीपैट और मुंगेली जिले के 10 वीवीपैट के पर्ची का मिलान ईवीएम के मतों से होगा।

Back to top button