लोकसभा चुनाव: भ्रष्टचार के खिलाफ ‘पुलिस’ की भूमिका में नजर आएगें वोटर

इलेक्शन कमीशन की टीम 'ई-नेत्र' मोबाइल एप्लीकेशन पर काम कर रही

नई दिल्ली। यदि आने वाले दिनों में इलेक्शन कमीशन की प्लानिंग कामयाब रही तो आने वाले लोकसभा चुनाव तक हर वोटर अपने स्मार्टफोन के साथ भ्रष्टचार के खिलाफ ‘पुलिस’ की भूमिका में नजर आएगा।

आपको बता दें कि इलेक्शन कमीशन की टीम ‘ई-नेत्र’ मोबाइल एप्लीकेशन पर काम कर रही है।

यदि कोई नेता अपने क्षेत्र में आचार संहिता का उल्लंघन (कैश या शराब बांटना या भड़काने वाले भाषण देना ) करता है।

इस ऐप के जरिए कोई भी व्यक्ति उस नेता की शिकायत कर सकता है। इसके साथ उसे सबूत के तौर पर उसकी तस्वीर या विडियो भी अपलोड करनी होगी।

मुख्य चुनाव आयुक्त ने बताया, ‘हमारे आईटी डिपार्टमेंट ने अगले लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए एक ऐप्लिकेशन तैयार की है।

इस ऐप को पायलट प्रॉजेक्ट के तौर पर आने वाले चार राज्यों (मध्यप्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मिजोरम) के चुनाव में प्रयोग किया जाएगा।

Back to top button