लोकसभा चुनाव का बज गया बिगुल, 7 चरणों में होंगे चुनाव

नई दिल्ली। आगामी लोकसभा चुनाव ( Lok Sabha Elections) के मद्देनजर रविवार शाम 5 बजे चुनाव आयोग (Election commission) की महत्वपूर्ण प्रेस कॉन्फ्रेंस (Press conference) हुई। इस दौरान चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया है। इसके साथ ही आचार संहिता भी लागू हो गई है।

7 चरण में होंगे लोकसभा चुनाव

नामाकंन की आखिरी तारीख 18 से 25 मार्च
पहले चरण का मतदान 11 अप्रैल 91 सीटें
दूसरे चरण का मतदान 18 अप्रैल 97 सीटें
तीसरे चरण का मतदान 23 अप्रैल 115 सीटें
चौथे चरण का मतदान 29 अप्रैल 71 सीटें
पांचवे चरण का मतदान 6 मई 51 सीटें
छठे चरण का मतदान 12 मई 59 सीटें
सातवें चरण का मतदान 19 मई 59 सीटें

23 मई को होगी मतगणना

प्रेस कॉन्फ्रेंस में चुनाव आयोग ने कहा कि 17वीं लोकसभा चुनाव की तैयारियां पूरी हो चुकी है। चुनाव के लिए सभी एजेंसियों से राय ली गई है। इसके अलावा हमने गृह मंत्रालय और रेलवे के साथ भी बैठक की। परीक्षा, त्योहारों और कटाई के मौसम को ध्यान में रखकर चुनाव की तारीख पर फैसला किया गया है। इस बार के चुनाव में 90 करोड़ वोटर्स होंगे, जबकि पिछली बार 81.45 करोड़ वोटर्स थे। 1950 कॉल फ्री नंबर पर आप वोटर लिस्ट से जुड़ी जानकारी ले सकते हैं। तारीखों के ऐलान के 10 दिन बाद वोटर लिस्ट में कोई बदलाव नहीं होगा।

उन्होंने बताया कि अलग-अलग राज्यों के अधिकारियों, राजनीतिक दलों और सुरक्षा एजेंसियों से बातचीत करने के बाद चुनाव का कार्यक्रम तैयार किया गया है। चुनाव में होने वाले खर्च पर आयोग की विशेष निगरानी रहेगी। वोटिंग के लिए 10 लाख पोलिंग स्टेशन बनाए गए हैं। संवेदनशील इलाकों में चुनाव के लिए CRPF की तैनाती की जाएगी। साथ ही रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक लाउडस्पीकर पर बैन रहेगा।

2019 में बिहार में गठबंधन

बिहार में लोकसभा की 40 सीटें हैं। बीजेपी का जनता दल यूनाइटेड (जदयू) और लोक जनशक्ति पार्टी(लोजपा) के साथ गठबंधन है, जबकि कांग्रेस, राष्ट्रीय जनता दल(राजद), राष्ट्रीय लोक समता पार्टी(रालोसपा) और हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा(हम) का महागठबंधन है। बीजेपी व जदयू दोनों 17-17 सीट पर चुनाव लड़ेंगे। वहीं लोजपा को 6 सीटें मिली हैं। वहीं महागठबंधन में अभी तक सीटों का बंटवारा नहीं हुआ है। बिहार महागठबंधन में अभी तक सीटों का बंटवारा नहीं हुआ है।

2019 में झारखंड में गठबंधन

झारखंड में लोकसभा की 14 सीटें हैं। राज्य में बीजेपी का गठबंधन (ऑल झारखंड स्टूडेंट्स यूनियन)आजसू के साथ है, जबकि दूसरी तरफ कांग्रेस, झारखंड मुक्ति मोर्चा(जेएमएम), राष्ट्रीय जनता दल(राजद) और झारखंड विकास मोर्चा (प्रजातांत्रिक) (जेवीएम) साथ हैं। यहां बीजेपी 13 जबकि आजसू एक सीट पर चुनावी मैदान में उतरेगी।

2019 में यूपी में गठबंधन

उत्तर प्रदेश में लोकसभा की 80 सीटें हैं। राज्य में सपा-बसपा- रालोद का गठबंधन है, जबकि दूसरी तरफ एनडीए और कांग्रेस है। उत्तर प्रदेश की कुल 80 संसदीय सीटों में से बसपा 38 और उसकी सहयोगी समाजवादी पार्टी (सपा) 37 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। गठबंधन ने तीन सीटें अजित सिंह की राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) को दी हैं और रायबरेली और अमेठी सीटों पर प्रत्याशी ना उतारने का ऐलान किया है। बसपा और सपा ने 12 जनवरी को उत्तर प्रदेश में गठबंधन की घोषणा की थी।

Back to top button