छत्तीसगढ़

लोक सुराज अभियान : जिले में 49 समाधान शिविर आयोजित होंगे

आवश्यक तैयारियां पूरी कर ली गई

कोरबा : प्रदेश व्यापी लोक सुराज का तीसर चरण 12 मार्च से प्रारंभ हो रहा है और यह अभियान 31 मार्च तक चलेगा। इस अभियान के दौरान आठ से 10 ग्राम पंचायतों के मध्य एक लक्ष्य समाधान का शिविर का आयोजन किया जायेगा। जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में 34 और शहरी क्षेत्रों में 15 शिविर आयोजित किये जायेंगे। इस प्रकार जिले में कुल 49 शिविर आयोजित होंगे। नगर निगम कोरबा के अन्तर्गत 06, नगर पालिका दीपका में 05, कटघोरा में 02 नगर पंचायत पाली एवं छुरी में एक-एक समाधान शिविर आयोजित होंगे।

कलेक्टर मो. कैसर अब्दुल हक ने बताया कि लोक सुराज अभियान की सभी आवश्यक तैयारियां पूरी कर ली गई है। जिलाधीश ने आज कलेक्टोरेट सभाकक्ष में विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक लेकर लोक सुराज अभियान के प्रथम चरण में प्राप्त और द्वितीय चरण में निराकृत आवेदन पत्रों की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने निराकृत आवेदन पत्रों की जानकारी आवेदक को लिखित एवं दूरभाष माध्यमों से भी देने के निर्देश दिए।

जिलाधीश मो. कैसर ने बताया कि इस अभियान में मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह, प्रभारी मंत्री, संसदीय सचिव और अन्य वरिष्ठ अधिकारी शामिल होंगे। मुख्यमंत्री अधिकारियों की बैठक लेकर समाधान शिविर में प्राप्त आवेदन पत्रों के निराकरण की समीक्षा करेंगे तथा विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन की समीक्षा करेंगे। कलेक्टर ने अभियान को गंभीरता से लेने के निर्देश अधिकारियों को दिए।

उन्होंने लोक सुराज अभियान के तृतीय चरण में किसी भी स्तर पर त्रुटि होगी तो संबंधितों के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही करने की बात कही। मो.कैसर ने कहा कि कोई भी पात्र व्यक्ति शासकीय योजनाओं से वंचित न हो। उन्होंने पात्र व्यक्तियों को हर संभव शासकीय योजनाओं का लाभ देने के निर्देश दिए।
जिलाधीश ने बताया कि प्रत्येक लक्ष्य समाधान शिविर का आयोजन प्रातः 10 बजे से अपरान्ह तीन बजे तक आयोजित किये जायेंगे। इस हेतु उन्होंने मंच, बैनर, बैठक व्यवस्था साफ-सफाई, उचित मूल्य की दुकानों में खाद्यान्न का भण्डारण, विद्युत और पेयजल व्यवस्था, राशन कार्ड, आंगनबाड़ी केन्द्र, सामाजिक सुरक्षा पेंशन का भुगतान, स्वास्थ सुविधा, मजदुरी भुगतान, निर्माण कार्य आदि के संबंध में आवश्यक निर्देश दिए। इसी तरह उन्होंने मैदानी अमलों के अधिकारियो-कर्मचारियों को मुख्यालय में निवास करने के संबंध में निर्देश दिए। इसी तरह उन्होंने समाधान शिविर के लिए नियुक्त नोडल अधिकारियों के संबंध में जानकारी प्राप्त की। उन्होंने नोडल अधिकारियों को संबंधित शिविर स्थल का भ्रमण करने के निर्देश दिए।

शिविर में होगा हितग्राही मूलक सामग्री का वितरण- समाधान शिविर के दौरान कृषि, मछलीपालन, उद्यान, श्रम, खाद्य एवं राजस्व विभाग द्वारा हितग्राहीमूलक योजनाओं के अंतर्गत सामग्री एवं अन्य प्रमाण पत्रों का वितरण किया जायेगा।
सीईओ पाली पर नाराजगी- बैठक में विलंब से आने पर जिलाधीश ने जनपद पंचायत पाली के सीईओ एम.आर.कैवर्त के प्रति नाराजगी जाहिर की। सीईओ पाली द्वारा बिना कलेक्टर के अनुमति के लोक सुराज के आवेदनों को विभिन्न विभागों में हस्तांतरित करने पर फटकार लगाई। बैठक में कई अधिकारियों ने बताया कि कल शाम तक उनके विभाग में कोई भी आवेदन निराकरण के लिए लंबित नहीं था।

आज जिलाधीश द्वारा ली गई समीक्षा बैठक के दौरान विभिन्न विभागों में आवेदन लंबित दर्शा रहा था।
बैठक में जिला पंचायत सीईओ इंद्रजीत सिंह चंद्रवाल, डीएफओ कोरबा एस. वेंकेटाचलम, अपर कलेक्टर प्रियंका महोबिया, नेपाल सिंह नैरोजी, एसडीएम कोरबा भास्कर सिंह मरकाम, कटघोरा अभिषेक अग्रवाल, पोड़ीउपरोड़ा अखिलेश साहू, सहायक आयुक्त श्रीकांत दुबे, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी पी.एस.सिसोदिया, डीईओ डी.के.कौशिक सहित जिला स्तर के अधिकारी उपस्थित थे।

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.