बिन मौसम बरसात से धान की फसल हुए नुकसान, राज्य सरकार करेगी भरपाई

सभी कलेक्टरों को हुई क्षति का आंकलन करने के दिए निर्देश

रायपुर:धान की अर्ली फसल की खेती करने वाले किसानों को इस बार अच्छे उत्पादन की उम्मीद थी, लेकिन पिछले तीन दिनों से लगातार हुई बारिश ने प्रदेश सहित राजधानी से सटे जिले के किसानों की उम्मीदों पर पानी फेर दिया। इससे कई खेतों में धान पक कर तैयार हो गया है, लेकिन तेज बारिश, हवा से तमाम खेतों में धान की फसल बिछ गई है।

कई जगह तो धान की बाली पानी में डूब गई है, जिससे फसल के खराब होने की आशंका बढ़ गई है। लगातार हुई बारिश से फसल तो चौपट हुई है। वहीं दिन भर जो आसमान में बादल छाए रहते हैं, उनसे भी डर लगने लगा है, क्योंकि धान की फसल पकी हुई तैयार है, माह के अंत तक से धान की कटाई पूरा करना था ऐसे में बारिश से बचने के लिए कोई उपाय समझ में नहीं आ रहा है। इससे अन्नदाता की चिंता बढ़ गई है।

लेकिन अब राज्य सरकार ने नुकसान हुए धान की फसल की भरपाई करने का वादा कर बारिश से क्षति का आंकलन करने के निर्देश सभी जिला कलेक्टरों को दिए हैं। मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव से सभी जिलों में बारिश से हुई क्षति तथा फसल का सर्वे कराकर रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा है।

Back to top button