महाराष्ट्र के उस्माबाद में बंधक है मस्तूरी का परिवार, रिहा करने प्रशासन से लगाई गुहार

ठेकेदारों द्वारा मजदूरों की बंधक बनाने और प्रताड़ित करने का मामला

भरत सिंह

बिलासपुर: मस्तूरी विधान सभा क्षेत्र के सूखे और अकाल की स्थिति और कार्य के आभाव में हजारों लोग परिवार सहित बाहर प्रदेशों में कमाने खाने गए हैं, जहां कई स्थानों पर ठेकेदारों द्वारा मजदूरों की बंधक बनाने और प्रताड़ित करने का मामला सामने आया है। मस्तूरी क्षेत्र के वृंदावन के मजदूर परिवार के सदस्यों को महाराष्ट्र में बंधक बना कर आर्थिक शोषण कर जाने से मरने की धमकी देने की शिकायत कर श्रम विभाग एवं पुलिस विभाग के उचाधिकारियों एवं कलेक्टर से बंधकों को छुड़ाने की गुहार पीड़ित परिवार ने लगाई है।

जानकारी के अनुसार मस्तूरी क्षेत्र के ग्राम ध्रुवाकारी के लेबर सरदार पन्नालाल पिता महेश ने ग्राम वृंदावन के मेलन बाई पति मनमोहन, मुकेश और उसकी पत्नी प्रतिमा साथ में डेढ़ वर्ष बच्चे एवं मुकेश के पिता को महाराष्ट्र के उस्माबाद ग्राम सरोरा के ईंटभट्ठा के मालिक धीरज बाकले पिता पोपट लाल के यहां ऊंची मजदूरी का लालच देकर काम दिलाने ले जाया गया था। जहां मजदूरों को ईंटभट्ठा मालिक ने बंधक बना लिया है।

परिवार को बंधक बनाए जाने की जानकारी देते हुए मुकेश ने अधिकारियों से बंधक को ले छुड़ाने एवं लेबर सरदार पर कार्यवाही करने की मांग की है।

Back to top button