मध्य प्रदेश कांग्रेस में भर्ती, रणदीप सुरजेवाला ने भी दिया ऐड, आए 750 आवेदन

भर्ती का खोजी अभियान चला रही कांग्रेस की सोशल माडिया विंग की इंचार्ज दिव्या स्पंदना ने सोशल मीडिया पर अच्छा करने के आइडिया देने वाले युवाओं के सामने राहुल गांधी के साथ कॉफी पीने का ऑफर रखा।

मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनावों को पास में देखते पार्टी की कम्युनिकेशन सेल में भर्ती करने के लिए कांग्रेस के दो नेता दिल्ली से पहुंचे। भर्ती का खोजी अभियान चला रही कांग्रेस की सोशल माडिया विंग की इंचार्ज दिव्या स्पंदना ने सोशल मीडिया पर अच्छा करने के आइडिया देने वाले युवाओं के सामने राहुल गांधी के साथ कॉफी पीने का ऑफर रखा।

[responsivevoice_button voice=”Hindi Female” buttontext=”अगर आप पढ़ना नहीं चाहते तो क्लिक करे और सुने”]

जिन लोगों ने इस काम मे रुचि जाहिर की, उनमें बड़ी संख्या में छात्र, एनजीओ में काम करने वाले लोग और वकील थे। कांग्रेस के मीडिया प्रभारी रणदीप सुरजेवाला का भर्ती अभियान ज्यादा शांत दिखा। उन्होंने जिला और राज्य स्तर के पार्टी प्रवक्ता की भर्ती के लिए इश्तेहार दिया।

करीब 750 लोगों के आवेदन आए, लेकिन बड़े पैमाने पर आवेदन करने वालों में रिटायर नौकारशाह और शिक्षाविद शामिल थे। बता दें कि मध्य प्रदेश में 2018 में विधानसभा चुनाव होने हैं, जिसके लिए कांग्रेस ने तैयारियां अभी से शुरू कर दी हैं।

कांग्रेस राज्य में अपने प्रवक्ताओं की लिस्ट मजबूत करने जा रही है। पार्टी को लगता है कि प्रवक्ताओं की अच्छी संख्या पार्टी की तरफ लोगो का ध्यान आकर्षित करने में मदद करेगी। पार्टी की कोशिशों से लगता है कि अब बेहद पढ़े-लिखे लोग ही लिए जाएंगे। इनमें प्रखर वक्ता, शोधार्थी, कंटेट लेखक हैं और सोशल मीडिया को अच्छे से हैंडल करने वाले डिमांड में माने जा रहे हैं।

इसी के चलते पिछले दिनों भी मध्य प्रदेश कांग्रेस ने प्रवक्ताओं की भर्ती के लिए ऑनलाइन ऑवेदन निकाले थे, तब करीब 200 लोगों ने इसके लिए अप्लाई किया। आवेदन करने वालों में पीएचडी होल्डर्स से लेकर एमफिल और एमटेक की पढ़ाई कर चुके कैंडीडेट्स तक शामिल थे।

कांग्रेस प्रवक्ता पंकज चतुर्वेदी ने बताया था मध्य प्रदेश में 20 चैनल हैं। जिसके लिए टीवी पर कांग्रेस को पेश करने वाले पेनलिस्ट की फिलहाल काफी कमी है।

इसी बात को ध्यान में रखकर कांग्रेस पार्टी प्रवक्ताओं की भर्ती कर रही है। कांग्रेस के अलावा लगभग सभी राजनीतिक दल सियासी संग्राम की तैयारियां अपने स्तर पर कर रहे हैं और वोटरों को लुभाने की भी कवायद तेज हो गई है।

Back to top button