मेघावी एवं होनहार विद्यार्थी गौरव अंलकरण से हुए सम्मानित

महासमुंद : कलेक्टर श्री हिमशिखर गुप्ता और जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री पुष्पेन्द्र मीणा ने आज जिले के सीबीएसई तथा छत्तीसगढ़ बोर्ड की कक्षा दसवीं और बारहवीं की परीक्षाओं में सर्वाधिक अंक लाने वाले मेघावी एवं होनहार छात्र-छात्राओं को गौरव अंलकरण से सम्मानित करते हुए प्रोत्साहित किया और कहा कि जिले की इन प्रतिभाओं से अन्य बच्चों को भी प्रेरणा लेने की जरूरत है।
कलेक्टर ने युवाओं को संबोधित करते हुए कहा कि कैरियर की दृष्टि से कक्षा दसवीं से कक्षा बारहवी का समय सर्वाधिक महत्वपूर्ण होता हैं। अगर इस समय विद्यार्थी लक्ष्य बनाकर तथा लक्ष्य केंद्रित कर पढ़ाई करें तो उसका भविष्य और कैरियर बन सकता तथा सुधर सकता है। इसके लिए रणनीति बनाकर पढ़ाई और तैयारी करनी होगी, निश्चय ही युवाओं को सफलता मिलेगी। उन्होंने युवाओं से कहा कि वे रटन्तु नहीं बने लेकिन पूरी मेहनत करने के साथ-साथ स्मार्ट तरीके से पढ़ाई करें। उन्होंने मेघावी युवाओं से कहा अभी जिंदगी और प्रतियोगी परीक्षाओं के इंतिहान और बाकी है इसके लिए वे जागरूक और सतर्क रहे तथा अपने प्रयासों को बढ़ाते रहे।
कलेक्टर ने कहा कि वर्तमान दौर में केवल बोर्ड परीक्षाओं में अंक लाना ही महत्वपूर्ण नहीं है बल्कि यह भी महत्वपूर्ण है कि वे भविष्य की कैरियर के प्रति जागरूक और सर्तक रहे तथा उनमें जाने के लिए प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए तैयारी भी रखे। उन्होंने कहा कि दंतेवाड़ा एवं सरगुजा जैसे दूरस्थ क्षेत्रों के बच्चे लगन से पढ़ाई कर उच्च संस्थाओं और पदों पर आसीन होकर राज्य का नाम रोशन कर रहे है। महासमुंद जिले में भी पढ़ाई और कैरियर की अच्छी संभावनाएं है और जिला प्रशासन का प्रयास रहेगा कि युवाओं के कैरियर मार्गदर्शन के लिए प्रयास किए जाएं। उन्होंने इंजीनियरिंग और मेडिकल के अलावा दिल्ली विश्वविद्यालय, श्रीराम कॉलेज तथा लेडी श्रीराम कालेज, नेशनल लॉ विश्वविद्यालय के लिए क्लेट परीक्षा का उल्लेख किया और कहा कि विद्यार्थियों को अंग्रेजी का ज्ञान बढ़ाने पर भी जोर देना चाहिए। उन्होंने विद्यार्थियों से यह भी कहा कि वे पढ़ाई के साथ-साथ अपनी रूचि के खेलकूद, सामाजिक गतिविधियों आदि में भी शामिल होना चाहिए, जिससे विद्यार्थियों का आलराउंड डेव्हलपमेंट हो और वे देश के अच्छे नागरिक बने।
जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री मीणा ने कहा कि विद्यार्थी जीवन काफी सुनहरा अवसर होता हैं। टापर्स विद्यार्थियों के प्रति सभी बच्चों में जिज्ञासा होती है कि वे क्या खाते और कैसे पढ़ाई करते है,निश्चय ही जिले के इन होनहार विद्यार्थियों ने असंभव को संभव बनाया है। इन विद्यार्थियों के साथ-साथ सभी बच्चों को चाहिए कि वे अपना आत्मविश्वास और हौसला बुलंद रखे तथा कुछ करने की ललक बनाकर रखे। जरूरी नहीं है कि हर विद्यार्थी टॉप करें, लेकिन अपनी प्रगति के प्रति संतुष्ट होना जरूरी है। उन्होंने कहा यह जरूरी है कि विद्यार्थी अपने कैरियर पर कंेद्रित होना शुरू कर दे और जब भी पढ़ाई करे पूरे मन और लगन से पढ़ाई करें। कार्यक्रम में जिला शिक्षा अधिकारी श्री केएस तोमर ने भी विद्यार्थियों को आगे बढ़ने के टिप्स दिए। यह आयोजन जिला मुख्यालय के स्थानीय शंकराचार्य सांस्कृतिक भवन में दैनिक भास्कर पत्र समूह द्वारा आयोजित किया गया। भास्कर ब्यूरो प्रमुख तथा समाचार संपादक श्री नीरज गजेन्द्र ने बताया कि यह आयोजन सामाजिक सरोकार का एक हिस्सा है। इस अवसर पर निःशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण और कैरियर गाइडेंस का आयोजन भी किया गया।

Back to top button