महाराष्ट्र सरकार ने कोरोना टीकाकरण अभियान को दो दिनों के लिए रोका

टीकाकरण के इस अभियान को 18 जनवरी तक के लिए पूरे महाराष्ट्र में रोका गया

मुंबई: कोरोना वायरस के खिलाफ चल रहे टीकाकरण अभियान को महाराष्ट्र सरकार ने 18 जनवरी तक के लिए पूरे राज्य में रोका है. राज्य स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, CoWin ऐप में तकनीकी दिक्कतों की वजह से इस कार्यक्रम पर रोक लगाई गई है.

अपर नगर आयुक्त सुरेश काकानी ने कहा कि CoWin ऐप में कुछ तकनीकी खराबी आ गई है, जिसे ठीक किया जाना है. इस रविवार और सोमवार को राज्य में कोरोना का टीका नहीं लगाया जाएगा. उनसे जब सवाल किया गया कि 19 जनवरी से टीकाकरण फिर से शुरू होगा, तो इसपर सुरेश काकानी ने कहा कि अभी कोई तारीख तय नहीं की गई है और आगे की जानकारी साझा की जाएगी.

BMC के अनुसार पहले दिन ही टीकाकरण अभियान को लागू करते समय CoWin ऐप में कुछ तकनीकी समस्याएं देखी गईं. आगे कहा गया कि केंद्र सरकार उसी को ठीक करने का प्रयास कर रही है. बता दें कि देश में कोरोना के टीकाकरण अभियान की शुरुआत शनिवार को हो गई.

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, टीकाकरण अभियान के पहले दिन देश में 1.91 लाख लोगों को कोरोना की वैक्सीन दी गई. स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि वैक्सीनेशन के लिए 3,351 सेंटर बनाए गए थे. इन वैक्सीनेशन सेंटर पर 16,755 लोगों की ड्यूटी लगाई गई.

महाराष्ट्र की बात करें तो यहां पर 285 सेंटर्स पर कोरोना की वैक्सीन शनिवार से लगनी शुरू हुई. महाराष्ट्र में शनिवार को करीब 28 हजार 500 हेल्थवर्कर को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य रखा गया था.

क्या है CoWIN ऐप

केंद्र सरकार ने कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर CoWIN (Covid Vaccine Intelligence Work) ऐप शुरू किया है. वैक्सीनेशन के पहले चरण में इस नेटवर्क से जुड़े 80 लाख लोगों को वैक्सीन की खुराक दी जाएगी. इस ऐप के जरिए भारत के स्वास्थ्य डेटा को एक जगह पर एकत्रित करने में मदद मिलेगी.

CoWIN से कोरोना टीकाकरण की रियल टाइम निगरानी, वैक्सीन के स्टॉक्स से जुड़ीं सूचनाएं, उन्हें स्टोर करने के तापमान और जिन लोगों को वैक्सीन लगनी है, उन्हें ट्रैक करने जैसे काम होंगे. अब तक 79 लाख से ज्यादा लाभार्थियों ने CoWIN पर रजिस्ट्रेशन कराया है.

महाराष्ट्र सरकार उठा चुकी है सवाल CoWin ऐप को लेकर महाराष्ट्र सरकार पहले ही सवाल उठा चुकी है. राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा था कि टीकाकरण का संचालन CoWin एप्लिकेशन पर आधारित होगा. क्या होगा अगर टीकाकरण केंद्र में स्वास्थ्य कार्यकर्ता टेक्नो फ्रेंडली या केंद्र पर नेट कनेक्टिविटी नहीं है?

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button