महाराष्‍ट्र : चेतक फेस्‍ट‍िवल में लगी घोड़ी की बोली 2 करोड़

महाराष्‍ट्र के 300 साल पुराने अश्‍व मेले में एक घोड़ी पद्मा की बहुत चर्चा है। इसके लिए 2 करोड़ की बोली तक लग चुकी है

महाराष्‍ट्र : चेतक फेस्‍ट‍िवल में लगी घोड़ी की बोली 2 करोड़

मुंबई : महाराष्‍ट्र में 300 साल पुराना चेतक फेस्‍ट‍िवल चल रहा है। दरअसल, राज्‍य के नंदूरबार जिले के सारंगखेडा में यह मशहूर अश्‍व मेला लगता है जहां दूर दूर से लोग घोड़ों की खरीदारी करने आते हैं। साथ ही यहां अलग अलग नस्‍ल के घोड़े प्रदर्श‍ित भी किए जाते हैं।

एक रिपोर्ट के मुताबिक, सारंगखेडा घोड़ा मेले में शामिल होने वाले अश्‍वों की संख्‍या 2000 से ज्‍यादा है। इन घोड़ों में सबसे ज्‍यादा चर्चा है इनमें पद्मा घोड़ी की जिसे इस मेले की सबसे ऊंची और सुंदर अश्‍व बताया जा रहा है।

बता दें कि पद्मा को इंदौर के दतोदा के बालकृष्ण चंदेल लेकर आए हैं। बालकृष्ण चंदेल ने मीडिया से बातचीत में बताया है कि पद्मा के रखरखाव पर वे खूब ध्‍यान देते हैं। बकौल बालकृष्ण – दूध जैसी सफेद पद्मा को वे पद्मा को रोजाना 8 लीटर दूध, मिनरल पानी, 2 किलो चना, 5 किलो गेहूं की चापड़ व स्वाद अनुसार हरी घास खिलाते हैं।

यही नहीं, ठंड में उसे हीटर और गर्मी में एयर कंडीशन में रखते हैं। चंदेल ने बताया कि घोड़ों के परखदार पद्मा की कद-काठी व नस्ल के आधार पर उसे राणा प्रताप के घोड़े चेतक की वंशज मानते हैं। बताया जा रहा है कि इस घोड़ी के लिए अब तक 2 करोड़ की बोली लग चुकी है लेकिन बालकृष्ण इसे बेचने के लिए तैयार नहीं हैं।

खबरों के मुताबिक, पद्मा ने गत वर्ष सारंगखेड़ा में ही सुंदर घोड़ों के प्रदर्शन में एक लाख रुपए का इनाम जीता था। इसके अतिरिक्त गुजरात, पंजाब व राजस्थान के अश्व मेलों में वह पूर्व में इनाम जीत चुकी है। करीब 5 साल की पद्मा की ऊंचाई देश में फ‍िलहाल सर्वाधिक 72 इंच है।

वहीं अहमदनगर का घोड़ा ऑस्कर भी इस मेले के आकर्षण का केंद्र है। 4 वर्षीय ऑस्कर पाथड़ी वंशावली का अश्व है। ऑस्कर के मालिक राज सातपुते ने बताया क‍ि वे रोज इसे 5 लीटर दूध, लचका कुट्टी, ज्वार की बाजरी, जौ- गुड़-काली तिल की डेप, 2 घंटे सुबह-शाम मालिश के साथ मिनरल पानी ही पिलाते हैं।

advt
Back to top button