महाराष्ट्र: MSRTC की हड़ताल खत्म हाईकोर्ट की फटकार के बाद

महाराष्ट्र में चार दिन बाद सरकारी बसें सड़कों पर वापस लौट आई हैं. बॉम्बे हाईकोर्ट ने शुक्रवार को कर्मचारी यूनियन द्वारा बुलाई गई इस हड़ताल को ‘अवैध’ घोषित कर दिया था जिसके बाद यह हड़ताल वापस ले ली गई.

वेतन बढ़ोतरी का दबाव बनाने के लिए महाराष्ट्र राज्य सड़क परिवहन निगम (एमएसआरटीसी) के कर्मचारी बीते 16 अक्टूबर से हड़ताल पर चले गए थे. हाईकोर्ट ने उन्हें हड़ताल तुरंत खत्म कर काम पर लौटने का निर्देश दिया था. हड़ताल करने वाले कर्मचारियों में अधिकतर बस ड्राइवर और कंडक्टर शामिल थे.

अधिकारियों के मुताबिक हाईकोर्ट के आदेश का हवाला देते हुए प्रदर्शनकारी यूनियनों ने अपनी हड़ताल खत्म कर दी और कर्मचारी शुक्रवार देर रात से काम पर लौटने लगे.
एमएसआरटीसी के कर्मचारियों की संख्या एक लाख से अधिक है. कर्मचारी सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के अनुरूप वेतन की मांग कर रहे थे. दिवाली की पूर्व संध्या पर प्रदर्शन के चलते त्योहार के मौसम में हजारों यात्रियों को अपने घर जाने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा.

मएसआरटीसी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘आदेश के बाद निगम की यूनियनों ने अपनी हड़ताल खत्म कर दी और कर्मचारी अपने संबंधित डिपो में काम पर लौटने लगे. हालांकि, परिचालन सामान्य होने में अभी कुछ और घंटे लगेंगे.’
उन्होंने बताया कि शनिवार सुबह आठ बजे तक लगभग 25 फीसदी सेवा बहाल हो गई है. बाकी सेवा दोपहर तक सामान्य होने की संभावना है.

advt
Back to top button