अन्यराज्य

लापरवाही: तेजस एक्सप्रेस में खाना खाने से 26 यात्रियों को हुई फूड प्वॉइजनिंग,अस्पताल में भर्ती

मुंबई: तेजस एक्सप्रेस में तमाम VIP सुविधाएं और अच्छी केटरिंग सर्विस को लेकर किए गए तमाम दावे की आज पोल खुल गई है. इस प्रीमियम ट्रेन में केटरिंग के लिए खास मेन्यू तैयार करने का प्रचार किया जा रहा था, हालांकि इस ट्रेन में भी खाने की स्थिति वैसी ही है जैसी भारतीय रेल की दूसरी ट्रेनों की है.

रविवार को गोवा से मुंबई जा रही तेजस एक्सप्रेस में IRCTC का खाना खाने से कम से कम 26 यात्री बीमार हो गए.

कोंकण रेलवे के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक संजय गुप्ता ने बताया कि तेजस एक्प्रेस में रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम (आईआरसीटीसी) का खाना खाने के बाद यात्रियों ने अस्वस्थ होने की शिकायत की.

उन्होंने बताया कि ट्रेन को चिपुलान स्टेशन पर रोका गया और अस्वस्थ सभी 26 यात्रियों को शहर के लाइफ केयर अस्पताल में भर्ती कराया गया. उन्होंने बताया कि सभी यात्री खतरे से बाहर है.

IRCTC के एक अफसर ने बताया कि करीब 290 यात्रियों को ट्रेन में नाश्ता दिया गया था. करीब 12 बजे 3 यात्रियों ने उल्टी जैसा लगने और घबराहट की शिकायत की.

कुछ घंटे के बाद और यात्रियों ने भी तबीयत खराब होने की शिकायत की. यात्रियों के पास वेज और नॉन-वेज खाने को चुनने का ऑप्शन होता है.

अधिकारी ने कहा कि अभी तक यह पता नहीं चला कि फूड पॉइजनिंग वेज खाने से हुई है या नॉनवेज खाने से. बता दें कि ट्रेनों में खाना और नाश्ता IRCTC के वेंडर परोसते हैं.

Tags
Back to top button