महासमुन्द : सिरपुर में अंतर्राष्ट्रीय बौद्ध महोत्सव का आगाज

बौद्ध विद्वान भदंत नागार्जुन सुरई ससाई ने किया शुभारंभ

12 से 14 मार्च तक चलने वाले इस समारोह में शोध संगोष्ठी का होगा आयोजन, देश के जाने-माने बौद्ध विद्वान होंगे शामिल

महासमुन्द : अंतर्राष्ट्रीय सिरपुर बौद्ध महोत्सव एवं शोध संगोष्ठी का आज शुभारम्भ मुख्य अतिथि भदंत नागार्जुन सुरई ससाई ने किया। इसी के साथ सिरपुर में अंतर्राष्ट्रीय बौद्ध महोत्सव का आगाज हो गया।

महासमुंद जिले के सिरपुर में आयोजित इस तीन दिवसीय समारोह में बौद्धधर्म से जुड़े देश के जाने माने विद्वान प्रो. रतन लाल,चैथीराम यादव और दिलीप मंडल,अशोक दास व  मधुकर कठाने, सुश्री हेमलता महिश्वर आदि शामिल हुए। महोत्सव का आयोजन छत्तीसगढ हेरिटेज एंड कल्चरल फाउंडेशन द्वारा किया जा रहा है। महोत्सव 12 मार्च से 14 मार्च तक आयोजित होगा।

सिरपुर महोत्सव 

सिरपुर महोत्सव में शोध संगोष्ठी में धम्म, कला-स्थापत्य, शिक्षा, संस्कृति, साहित्य, इतिहास केन्द्रित व्याख्यान होंगे। समारोह में देश और दुनिया के प्रख्यात विद्ववान भाषाविद, पुरातत्वविद, इतिहासकार, शोधकर्ताओं, लेखकों, यूनिवर्सिटी के प्रोफेसरों, साहित्यकारों व बुद्धजीवियों का प्रबोधन सत्र भी होगा। इस दौरान छत्तीसगढ़ी कलाकारों द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति होगी। महोत्सव में बौद्ध विरासत पर आधारित नाटक का मंचन किया जाएगा।

महोत्सव में लघु फिल्मों का प्रदर्शन, महापुरुषों की जीवनी पर पोस्टर प्रदर्शनी और पुस्तकों का स्टॉल भी लगाया गया है। महोत्सव में कला, संस्कृति, शिक्षा, साहित्यिक और सामाजिक सहित अन्य क्षेत्रों में प्रेरणादायक योगदान देने वाले को सम्मानित किया जाएगा। बौद्ध विरासत और संस्कृति पर आधारित प्रतियोगिता निबंध, गीत, कविता, रंगोली, रेत आर्ट, चित्रकला, पेंटिंग और प्रश्नोत्तरी स्पर्धा आयोजित कर विजेताओं को महोत्सव के समापन अवसर पर पुरस्कार प्रदान किया जाएगा।

कल शनिवार को धम्म, कला स्थापत्य, संस्कृति, साहित्य, समाज एवं इतिहास पर केन्द्रित एक महत्वपूर्ण सांस्कृतिक, सामाजिक के जानकार संबोधित करेंगे। तीन दिवसीय महोत्सव में छत्तीसगढ़ी कलाकारों द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तृति होगी।

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

One Comment

  1. Namobudhy Jai bheem I am happy for organising sirpur international budh mahotsava from 12-14 March 21. For justice & safty of constitution of India , these function is essentional. I am requested to organised a budh festival at Delhi.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button