छत्तीसगढ़

ग्लोबल वार्मिंग एक बड़ी चुनौती : गागड़ा

रायपुर: ग्लोबल वार्मिंग और जलवायु परिवर्तन की समस्या आज पूरी दुनिया के लिए एक बड़ी चुनौती के रूप में है। इससे खेती-किसानी भी प्रभावित होती है और किसानों को भी समस्या का सामना करना पड़ता है। ये बातें सोमवार को वन मंत्री महेश गागड़ा कही। मंत्री गागड़ा ने छत्तीसगढ़ राज्य जलवायु परिवर्तन केन्द्र की ओर से प्रकाशित तिमाही न्यूज लेटर के प्रथम अंक का विमोचन किया। उन्होंने व्याख्यान माला के अवसर पर वेबसाइट का भी शुभारंभ किया।
उन्होंने कहा कि जलवायु परिवर्तन की समस्या के प्रति छात्र-छात्राओं में जागरूकता बढ़ाने की जरूरत है। व्याख्यानमाला में यूनेस्को के नई दिल्ली से आए वरिष्ठ अधिकारी डॉ. रामबूझ ने मुख्यवक्ता के रूप में अपना व्याख्यान दिया। उनका व्याख्यान जलवायु परिवर्तन, जैव विविधता और सतत विकास विषय पर केन्द्रित रहा। छत्तीसगढ़ राज्य जलवायु परिवर्तन केन्द्र के नोडल अधिकारी और प्रधान मुख्य वन संरक्षक, वन बल प्रमुख डॉ. एए बोआज ने स्वागत भाषण दिया। उन्होंने कहा कि संस्था की ओर से भारतीय प्राणी सर्वेक्षण के सहयोग से छत्तीसगढ़ के वन्य जीव अभ्यारण्यों, टाईगर रिजर्व और जैव विविधता जैसे विषयों पर तेरह पुस्तकों का प्रकाशन किया जा रहा है। इसके अलावा जैव संग्रहालय की भी स्थापना की जा रही है।
व्याख्यानमाला में राज्य के अनेक वैज्ञानिक, विभिन्न शैक्षणिक और शोध संस्थाओं के प्रतिनिधि, विश्वविद्यालयों के छात्र और समाज सेवी संस्थाओं के प्रतिनिधि भी शामिल हुए।

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *