बिज़नेस

महिंद्रा वर्ल्ड सिटी ने मल्टी प्रोडक्ट एसईजेड का किया शुभारंभ

जयपुर : प्रदेश के उद्योग मंत्री राजपाल सिंह शेखावत ने गुरुवार को महिंद्रा वर्ल्ड सिटी, जयपुर के मल्टी प्रोडक्ट एसईजेड का उदघाटन किया। इस मौके पर राज्य के मुख्य सचिव डीबी गुप्ता, अतिरिक्त मुख्य सचिव ( उद्योग) राजीव स्वरूप और नोएडा एसईजेड के डेवलपमेंट कमिश्नर डॉ. एल. बी सिंघल भी मौजूद रहे। समारोह में सिग्मा इलैक्ट्रिक और एरो ग्रेनाइट ने नए लॉन्च किए गए मल्टी प्रोडक्ट सेज में विनिर्माण सुविधाओं की स्थापना के लिए सहमति पत्र पर भी हस्ताक्षर किए।

समारोह को संबोधित करते हुए उद्योग मंत्री राजपाल सिंह शेखावत ने कहा कि देश और प्रदेश में औद्योगिक निवेश का वातावरण लगातार बन रहा है। इसी के चलते दक्षिणी राज्यों से भी निवेशक राजस्थान में निवेश कर रहे है। उन्होंने कहा कि मल्टी प्रोडक्ट एसईजेड की लॉन्चिंग राजस्थान को विकास के मार्ग पर आगे ले जाएगी, ऐसा उन्हें विश्वास है।

प्रदेश के मुख्य सचिव डीबी गुप्ता ने कहा कि योजनाबद्ध तरीके से औद्योगिक आधारभूत संरचना के साथ राजस्थान में विनिवेश को बढ़ावा देना राज्य सरकार की प्राथमिकता है। एसीएस राजीव स्वरूप ने कहा कि महिंद्रा वर्ल्ड सिटी जयपुर में मल्टी प्रोडक्ट एसईजेड का नोटिफिकेशन महिंद्रा लाइफस्पेसेज डेवलपर्स लिमिटेड के साथ हमारी साझेदारी के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है। इस पहल से राजस्थान के औद्योगिक विकास को गति मिलेगी। जिससे प्रदेश में अधिक निवेश को जुटाना आसाना होगा और प्रदेश की अर्थव्यवस्था मजबूत होगी। समारोह में महिंद्रा लाइफस्पेसेज डेवलपर्स लिमिटेड के चेयरमैन अरूण नंदा ने कहा कि महिंद्रा वर्ल्ड सिटी जयपुर में मल्टी प्रोडक्ट सेज इस क्षेत्र में निर्यात, एक वाइब्रेंट स्किलिंग ईकोसिस्टम और रोजगार के नए अवसरों के जरिये सामाजिक-आर्थिक विकास को बढ़ावा देना जारी रखेगा।

आपको बता दे कि महिंद्रा वर्ल्ड सिटी जयपुर महिंद्रा लाइफस्पेस डेवलपर्स लिमिटेड और आरआईआईसीओ के बीच संयुक्त उद्यम है। एमडब्ल्यूसी जयपुर में 3000 एकड़ का एक एकीकृत व्यापारिक शहर है। 31 मार्च 2018 तक एमडब्ल्यूसी जयुपर ने 81 कंपनियों के साथ हस्ताक्षर किए है, जिनमें से 49 में पहले ही परिचालन शुरू हो गया है। यहां पर स्थापित कंपनियों से अब तक 35 हजार लोगों को रोजगार उपलब्ध कराया गया है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.