छत्तीसगढ़ के विकास में मरार समाज का अहम योगदान : डॉ. रमन

कोनचरा गांव में मरार समाज के शाकंभरी महोत्सव में शामिल हुए मुख्यमंत्री

बिलासपुर : मुख्यमंत्री रमन सिंह रविवार को कोटा विकासखंड के कोनचरा गांव में मरार समाज द्वारा आयोजित शाकंभरी महोत्सव में शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने कहा कि, ‘छत्तीसगढ़ के विकास में मरार समाज का अहम योगदान है। सीएम ने कहा कि, ‘मरार समाज अपने कठोर अनुशासन के लिए जाना जाता है। इस समाज ने विभिन्न प्रकार की सामाजिक बुराइयों से दूरी बनाकर रखी है जो बड़े ही हर्ष की बात है। सीएम ने कहा कि, ‘आजकल बेटियां प्रत्येक क्षेत्र में आगे हैं और फाइटर प्लेन तक उड़ा रही हैं।

सीएम ने मरार समाज से बेटियों को आगे लाने की अपील की। उन्होंने कहा कि, ‘सरकार ने शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र में बाजार (पसरा) शुल्क को समाप्त कर दिया है। शुल्क समाप्त होने से सब्जी व्यवसाय से जुड़े कृषकों की आय में वृद्धि हुई है और उनकी परेशानी खत्म हो गई है।

छत्तीसगढ़
छत्तीसगढ़

ग्राम कोनचरा में सामाजिक समरसता भवन के लिए 15 लाख रुपए मंजूर

इस मौके पर मुख्यमंत्री रमन सिंह ने समाज की मांग पर ग्राम कोनचरा में सामाजिक समरसता भवन के लिए 15 लाख रुपए, सड़क कॉन्क्रीटीकरण के लिए 10 लाख रुपए और तालाब सौंदर्यीकरण की मांग को स्वीकृति प्रदान की। सीएम ने कहा कि, ‘सरकार ने प्रदेशभर में सड़कों का ऐसा जाल बिछा दिया है कि, कृषक कम समय में ही अपनी सब्जी बाजार तक पुहंचा कर अच्छी कीमत ले पा रहे हैं। सड़कों के बन जाने से सिर्फ परिवहन ही आसान नहीं हुआ है बल्कि किसानों को भी इसका लाभ मिल रहा है।’

Back to top button