भारतीय वायुसेना की बड़ी कामयाबी, जैश-ए-मोहम्मद का कंट्रोल रूम पूरी तरह से ध्वस्त

बालाकोट, चकोठी और मुजफ्फराबाद के टेरर लॉन्च पैड को किया पूरी तरह से नष्ट

नई दिल्ली: भारतीय वायुसेना द्वारा नियंत्रण रेखा (एलओसी) पार कर आतंकी कैंप को ध्वस्त किया गया. साथ ही जैश-ए-मोहम्मद का कंट्रोल रूम पूरी तरह से ध्वस्त किया गया. जिसके बाद इस हमले को भारतीय वायुसेना की बड़ी कामयाबी बताते हुए पूरा देश इस हमले की तारीफ कर खुशी माना रहे हैं.

समाचार एजेंसी एनएऩआई ने सूत्रों के हवाले से कहा है कि एलओसी के पार भारतीय वायुसेना के स्ट्राइक में बालाकोट, चकोठी और मुजफ्फराबाद के टेरर लॉन्च पैड को पूरी तरह से नष्ट हो गए हैं. जैश-ए-मोहम्मद के कंट्रोल रूम में भी पूरी तरह से बर्बाद हो गए हैं.

सूत्रों की मानें तो तड़के 3 बजे चलाए गए भारतीय वायुसेना के इस बड़े ऑपरेशन में एयरफोर्स के 12 मिराज फाइटर प्लेन शामिल थे. वायुसेना के इस हमले में जैश-ए-मोहम्मद के कई आतंकी कैंप ध्वस्त हो गए और वायुसेना ने जैश के कंट्रोल रूम को पूरी तरह तबाह कर दिया.

यह पहला मौका है जब भारतीय वायुसेना ने एलओसी पार कर किसी ऑपरेशन को अंजाम दिया है. यहां तक कि कारगिल युद्ध के दौरान भी एयरफोर्स ने एलओसी पार नहीं की थी.

वहीं, पाकिस्तान में भारतीय उच्चायुक्त रहे जी. पार्थसारथी ने कहा कि बालाकोट कई साल से जैश-ए-मोहम्मद का अड्डा रहा है. इस हमले का संदेश साफ है. पाकिस्तान में जहां भी आतंकी हैं, हम उन पर हमला करने के लिए तैयार हैं.”

Back to top button