बालिकाओ को हुनरमंद बनाकर करें आत्मनिर्भर : कलेक्टर संजीव कुमार झा

बैठक में सहायक कलेक्टर श्वेता सुमन, सीएसपी पुष्कर शर्मा तथा अन्य अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।

अम्बिकापुर 5 अक्टूबर 2021 : कलेक्टर संजीव कुमार झा की अध्यक्षता में महिला एवं बाल विकास विभाग की जिला स्तरीय टास्क फोर्स समिति की त्रैमासिक समीक्षा बैठक का आयोजन मंगलवार को कलेक्टोरेट सभाकक्ष में किया गया।

कलेक्टर ने कहा कि बालिकाओं को हुनरमंद बनाएं ताकि वे जिंदगी में कौशलपूर्ण काम करके आत्मनिर्भर बन सकें। महिलाएं किसी के ऊपर आश्रित न रहें। उन्होंने नारी सशक्तिकरण तथा बाल विवाह की रोकथाम के लिए प्रभावी कदम उठाने के निर्देश दिए। सखी वन स्टॉप सेंटर में आने वाले फरियादियों को तत्काल उनकी समस्या का निराकरण करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि महिलाओ के रेस्क्यू, रिलीफ और रिहैबिलिलेशन तंत्र को मजबूत करें।

कलेक्टर ने बाल विवाह के संबंध में समीक्षा के दौरान कहा कि बाल विवाह शिक्षा में कमी तथा जागरूकता के अभाव में होती है। मितानिन, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता तथा शिक्षकों के माध्यम से स्थानीय स्तर पर लोगों में जागरूकता का प्रसार करें। इससे लोगों में बाल विवाह से होने वाले विपरीत प्रभाव की जानकारी होगी। लोग जागरूक होंगे और बाल विवाह को हतोत्साहित करेंगे। कलेक्टर ने बाल संप्रेषण गृह में 2 शिक्षक तथा 1 नर्स की ड्यूटी लगाने के निर्देश दिए।

बैठक में महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला अभिकरण समिति, जिला टास्क फोर्स समिति, जिला बाल संरक्षण समिति, मुख्यमंत्री सुपोषण योजना निरीक्षण समिति, सखी वन स्टॉप सेंटर संचालन समिति, स्वाधार गृह संचालन समिति तथा प्रधानमंत्री मातृ वंदना निरीक्षण समिति के कार्यों की समीक्षा की गई। जिला महिला एवं बाल विकास अधिकारी बसंत मिंज ने विभाग से संबंधित कार्यों की प्रगति के संबंध में जानकारी प्रस्तुत की। बैठक में सहायक कलेक्टर श्वेता सुमन, सीएसपी पुष्कर शर्मा तथा अन्य अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button