नर कंकाल मामले का हुआ खुलासा, प्रेमी व साथी ही निकले हत्यारे, आरोपी चढ़े पुलिस के हत्थे

अरविन्द शर्मा:

कटघोरा: आजकल की नई युवा पीढ़ी प्यार इश्क के चक्कर अक्शर इस क़दर अंधी हो चुकी है जिसका परिणाम कभी कभी बहुत भयावह रूप अख्तियार कर लेता है और फिर हो जाता है जुर्म।इसी तर्ज पर थाना कटघोरा के अंतर्गत एक नरकंकाल मामला सामने आया था जिसमे प्रेमी व साथी ने मिलकर अपनी प्रेमिका की दर्दनाक हत्या कर दी थी।पर कहते हैं ना जुर्म चाहे कितनी भी सफाई से किया जाए कही ना कहीं सबूत छूट ही जाता है और कानून के लंबे हाथ उन तक पहुच ही जाते हैं।जिला पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक मीणा के निर्देशन पर कटघोरा एसडीओपी पंकज पटेल के नेतृत्व में थाना निरीक्षक अविनाश सिंह की अगुवाई हमराह स्टाफ ने आखिरकार पूरे मामले को सुलझा ही लिया।

बीते कई दिनों से कटघोरा पुलिस के लिए शिरदर्द बना नरकंकाल मामला आखिरकार पुलिस ने सुलझा ही लिया। यह मामला युवती के प्रेम प्रसंग से जुड़ा बताया जा रहा है। युवती की हत्या में इसी के प्रेमी व साथी की अहम भूमिका रही।

चुहियाडांड निवासी युवती की हत्या के मामले में पुलिस ने उसके प्रेमी व एक अन्य साथी को हिरासत में लिया है। प्रेम संबंध को लेकर हुए विवाद की वजह से हत्या किए जाने की संभावना जताई जा रही है। पुलिस इस मामले की पूरी जानकारी आज प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिये दी..

चैतमा के चुहियाडांड निवासी बोधराम की पुत्री प्रिया कु्‌रे 25 जून को अचानक रहस्यमय ढंग से लापता हो गई। एक माह बाद 24 जुलाई को कटघोरा थाना क्षेत्र के ग्राम जामपानी रावा के जंगल में उसका नरकंकाल मिला। कपड़ों के आधार पर परिजनों ने उसकी शिनाख्त की। पुलिस मर्ग कायम कर मामले की जांच कर रही थी। हत्या का मामला दर्ज किए जाने की मांग लेकर भीम रेजीमेंट संगठन के बैनर तले पिछले दिनों जांच की मांग की गई थी। इसके बाद पुलिस हरकत में आई और जांच पड़ताल तेज हुई। चूंकि केवल नर कंकाल पुलिस को बरामद हुआ, इसलिए मौत की वजह स्पष्ट करने हड्डियां फारेंसिक लैब भेजी गई थी। रिपोर्ट आने के बाद पुलिस ने हत्या का मामला पंजीबद्ध कर लिया है। बताया जा रहा है कि पुलिस ने लखन यादव व एक साथी जगमोहन यादव को संदेह के आधार पर हिरासत में लेकर पूछताछ की जहां उन्होंने अपना गुनाह कबूल कर लिया।युवती शादी की जिद पकड़ बैठी थी और युवक को यह बात नागवार गुजरी और अपने भाई के साथ मिलकर युवती की हत्या करने की योजना बना डाली तथा रावा के जंगल मे इस दर्दनाक घटना को अंजाम दे दिया गया।

साइबर सेल की मदद से काल डिटेल निकाला गया है। सूत्रों का दावा है कि पूछताछ के दौरान पुलिस के समक्ष लखन ने अपराध कबूल कर लिया है। कटघोरा टीआई अविनाश सिंह का कहना है कि आवश्यक प्रक्रिया अभी पूर्ण कर ली गई है दोनों पर धारा 302, 34 पर अपराध पंजीबद्ध कर रिमांड पर भेज दिया है।

cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button