बच्चों-महिलाओं का करता था व्यापार, मिली 472 साल की कैद

बच्चों-महिलाओं का करता था व्यापार, मिली 472 साल की कैद

अमरीका की एक अदालत ने एक शख्स को 472 साल जेल की सजा सुनाई है। ब्रॉक फ्रेंकलिन (31) को बच्चों और महिलाओं को जिस्मफरोशी के लिए बेचने के अपराध सजा सुनाई है। अब वह अपनी पूरी जिंदगी जेल मे ही बिताएगा। ब्रॉक फ्रेंकलिन का एक पूरा नैटवर्क था, जो इस काम को करता था। उसने कई महिलाओं और लड़कियों को फेसबुक से भर्ती किया था।

कोलोराडो अदालत ने ब्रॉक फ्रेंकलिन पर चल रहे केस में उसे मानव तस्करी, यौन शोषण, बाल वेश्यावृति और अपहरण सहित 30 मामलों में दोषी पाया । अभियोजन पक्ष ने कहा कि इतनी कड़ी सजा एक तरह से यह संदेश देने के लिए है कि अगर कोई भी ऐसा गुनाह करेगा, तो उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।
कोलोराडो अटॉर्नी जनरल के कार्यालय के एक प्रवक्ता जेनेट ड्रेक ने कहा कि ‘यह सजा एक सख्त मैसेज देती है कि देश में इस तरह के किसी भी अपराध को सहन नहीं किया जाएगा। मानव तस्करी के लिए अमरीका के इतिहास में अब तक की यह सबसे लंबी सजा है।’

फ्रेंकलिन के इस गिरोह में 7 लोग थे, जिनमें से चार को पहले ही सजा सुनाई जा चुकी है। एंटी स्लैवरी ग्रुप पोलारिस ने कहा कि पिछले एक दशक में अमरीका में 22,000 से ज्यादा सैक्स-ट्रेफिकिंग के मामले दर्ज हुए हैं। इंटरनैशनल लेबर ऑर्गेनाइजेशन की रिपोर्ट के मुताबिक दुनिया भर में 4 करोड़ से ज्यादा लोग मानव तस्करी से पीड़ित हैं। इनमें से करीब 40 लाख को जबरदस्ती देह व्यापार में धकेल दिया गया है।

Back to top button