शख्स ने बनाया किंग कोबरा का वीडियो, सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर मचाई धूम

भारतीय वन सेवा अधिकारी परवीन कासवान को कर दिया टैग

नई दिल्ली: हिमाचल के रहने वाले प्रवीण ठाकुर ने सैर के दौरान किंग कोबरा देखा जिसका उन्होंने वीडियो बना लिया. लेकिन जब उन्हें पता नहीं चला कि वो कौन सा सांप है तो उन्होंने सोशल मीडिया पर वीडियो डालकर लोगों से पूछा कि उन्हें इस सांप के बारे में जानकारी नहीं है और लोगों से मदद मांगी.

सोशल मीडिया पर सांप का वीडियो शेयर करते हुए उन्होंने उसमें एक भारतीय वन सेवा अधिकारी परवीन कासवान को टैग कर दिया. उन्होंने सांप का वीडियो उस वक्त बनाया था जब वो अपने पालतू कुत्ते के साथ घूम रहे थे और कुत्ते ने सांप को देखकर उन्हें सावधान कर दिया था. सांप चट्टान में एक गहरे छेद से बाहर खिसकते हुए आगे बढ़ रहा था. तब उन्हें अंदाजा नहीं था कि वो कौन सा सांप है.

वीडियो को ट्विटर पर शेयर करते हुए प्रवीण सिंह ने IFS अधिकारी को टैग करते हुए लिखा, ‘परवीन कासवान जी, यह कौन सा सांप है? वीडियो ने जल्द ही सोशल मीडिया और मैसेजिंग प्लेटफॉर्म पर धूम मचा दी. वीडियो वन्यजीव विशेषज्ञों से लेकर वन विभाग के कर्मियों तक पहुंच गया.

सावधानीपूर्वक जांच के बाद, पुष्टि हुई कि वीडियो में देखा गया सांप किंग कोबरा था, जिसे इससे पहले हिमाचल प्रदेश में कभी नहीं देखा गया था. किंग कोबरा दुनिया का सबसे लंबा जहरीला सांप माना जाता है जो दक्षिण-पूर्व एशिया के बड़े हिस्से का मूल निवासी है. भारत में, किंग कोबरा मुख्य रूप से पश्चिमी घाटी क्षेत्र के साथ-साथ असम, बंगाल, ओडिशा और तराई क्षेत्रों में पाया जाता है.

रिपोर्ट के मुताबिक बताया जा रहा है कि हिमाचल प्रदेश में किंग कोबरा का यह शायद पहला प्रामाणिक रिकॉर्ड है, संभागीय वन अधिकारी कुणाल अंगरीश ने कहा कि उत्तर भारत में सरीसृप की प्रजाति उत्तराखंड रेंज में समाप्त हो गई थी.

अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए, उन्होंने कहा, “एक स्थानीय निवासी प्रवीण ठाकुर ने साधारण सांप मानकर इस जहरीले सांप की तस्वीर खींची थी, लेकिन असाधारण रूप से वो काफी लंबा था. लेकिन जैसे ही उन्होंने ग्रुप में तस्वीर साझा की, किसी ने इसे हमारे वन विभाग के कर्मियों और वन्यजीव विंग को भेज दिया. हमने जांच की और पाया कि यह एक किंग कोबरा था. हमने परवीन ठाकुर से संपर्क किया है और उस इलाके की जांच कर रहे हैं, जो पांवटा साहिब के कोलार जंगलों में है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button