कोविड राहत सामग्री के लिए 100 उड़ानों का प्रबंध: दिल्ली अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा लिमिटेड

दिल्‍ली अंतर्राष्‍ट्रीय हवाई अड्डे पर 36 देशों से 17 सौ 50 मीट्रिक टन राहत सामग्री प्राप्‍त हुई है। इसने राहत सामग्रियों के भंडारण और वितरण के लिए जीवोदय नाम से एक अंतरिम भंडार गृह भी स्‍थापित किया है।

दिल्‍ली अंतर्राष्‍ट्रीय हवाई अड्डा लिमिटेड ने 29 दिन में कोविड राहत सामग्री लेकर आने वाली सौ उड़ानों का प्रबंधन किया। राहत सामग्री के प्रबंधन और वितरण करने के मामले में यह हवाई अड्डा प्रमुख केन्‍द्र बन कर उभरा है।

दिल्‍ली अंतर्राष्‍ट्रीय हवाई अड्डे पर 36 देशों से 17 सौ 50 मीट्रिक टन राहत सामग्री प्राप्‍त हुई है। इसने राहत सामग्रियों के भंडारण और वितरण के लिए जीवोदय नाम से एक अंतरिम भंडार गृह भी स्‍थापित किया है।

दिल्‍ली हवाई अड्डा पर अमरीका, ब्रिटेन, कनाडा, आयरलैंड, जर्मनी, फ्रांस, ऑस्ट्रिया, बेल्जियम, रूस, स्पेन, इटली, आयरलैंड, डेनमार्क, स्विट्जरलैंड, नीदरलैंड, ऑस्ट्रेलिया, चेक गणराज्य, रोमानिया, सिंगापुर, मॉरीशस, हांगकांग, जापान, उजबेकिस्तान, दक्षिण कोरिया, सऊदी अरब, मिस्र, ओमान, दोहा, कजाकिस्तान, चीन, वियतनाम, थाईलैंड, म्यांमार, ताइवान, कुवैत और संयुक्‍त अरब अमारात से 27 अप्रैल से 25 मई के बीच 17 सौ 50 टन राहत सामग्री प्राप्‍त की गई है।

हवाई अड्डा द्वारा एंटोनो-124, सी-130 ग्‍लोबमास्‍टर, सी-5, सी-17 और आईएल-76 जैसे बड़े सैन्‍य और वाणिज्यिक विमानों समेत विभिन्‍न विमानों से यह सामग्री प्राप्‍त की गई है।

इन विमानों द्वारा लाई गई राहत सामग्री में ऑक्‍सीजन उत्‍पादन संयंत्र, ऑक्‍सीजन उत्‍पादक, ऑक्‍सीजन कंसंट्रेटर, ऑक्‍सीजन सिलेण्‍डर, ऑक्‍सीजन थेरेपी उपकरण, मास्‍क, वेंटीलेटर, रेमेडिसिविर इनजेक्‍शन, बिस्‍तर और वेक्‍लरी और टोक्‍लीजुमाब दवाएं इत्‍यादि शामिल हैं।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button