राष्ट्रीय

मणिशंकर अय्यर ने यशवंत सिन्हा को दिया कांग्रेस ज्वाइन करने का ऑफर

नई दिल्ली : वरिष्ठ कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने बीजेपी नेता यशवंत सिन्हा को कांग्रेस ज्वाइन करने का ऑफर दिया है. मणिशंकर अय्यर ने कहा है कि देश की गंभीर आर्थिक स्थिति के बारे में भाजपा नेता यशवंत सिन्हा वही दलीलें दे रहे हैं जो नोटबंदी के बाद से कांग्रेस लगातार कह रही है. अय्यर ने कहा कि सिन्हा पहले भी कई पार्टियों में रह चुके हैं और अब समय आ गया है जबकि उन्हें कांग्रेस में शामिल होने पर विचार करना चाहिये. अय्यर ने सिन्हा को कांग्रेस में शामिल होने के लिये आमंत्रित करने और पार्टी में वंशवाद की समस्या गहराने जैसे अन्य मुद्दों पर उनके हवाले से प्रकाशित कुछ मीडिया रिपोर्टों का आज खंडन करते हुये यह बात कही. अय्यर ने स्पष्ट किया कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को या तो पार्टी अध्यक्ष बने रहना चाहिये या उपाध्यक्ष राहुल गांधी को पार्टी की कमान सौंप देना चाहिये.

अय्यर ने पीटीआई भाषा को बताया कि उन्होंने सोनिया या राहुल के रहते पार्टी के किसी अन्य नेता को कांग्रेस अध्यक्ष पद नहीं मिलने की बात बिल्कुल नहीं कही. उनके बयान को तोड़मरोड़ कर पेश किया गया है. उन्होंने कहा कि हाल ही में उन्होंने अपने एक लेख में कहा था कि साल 2019 में कांग्रेस का नेतृत्व करने के लिये राहुल गांधी पार्टी में सर्वश्रेष्ठ विकल्प हैं.

उन्होंने स्पष्ट किया कि ‘इसमें वंशवाद जैसी कोई बात नहीं है क्योंकि कांग्रेस का हर सदस्य यह चाहता है कि या तो ‘मां’ का नेतृत्व जारी रहे या उनके पुत्र को पार्टी की कमान सौंपी जानी चाहिये.’ अय्यर ने खुद उनके द्वारा अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने की बात को भी गलत बताते हुये कहा कि वह कांग्रेस कार्य समिति का चुनाव लड़ने के इच्छुक जरूर है. इससे पहले भी 1992 और 1997 में वह कार्यसमिति के लिये चुनाव लड़ चुके हैं. हालांकि वह दोनों चुनाव हार गये थे.

अय्यर ने कहा कि मोदी सरकार, भाजपा और आरएसएस के भगवा एजेंडे से देश की एकता और अखंडता को खतरा पैदा हो गया है. संकट की इस घड़ी में देश की जनता कांग्रेस की तरफ उम्मीद की नजरों से देख रही है. उन्होंने कहा कि पार्टी नेतृत्व को समय की इस मांग को समझते हुये या तो कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को पार्टी की कमान सौंप देना चाहिये या बतौर पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी का नेतृत्व सुचारु रहना चाहिये.

Summary
Review Date
Reviewed Item
मणिशंकर अय्यर
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.