मन की बात: कौन हैं ओडिशा के नायक सर, PM मोदी ने बताई इनकी ‘महागुरु बटालियन’ की खासियत

पीएम मोदी ने बताया कि नायक सर (Nayak Sir from Odisha) का पूरा नाम सिलू नायक है.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ( PM Narendra Modi Mann ki baat) ने रविवार को ‘मन की बात’ कार्यक्रम में नायक सर (Nayak Sir from Odisha) का जिक्र किया. नायक सर ओडिशा के अराखुड़ा में रहते हैं. पीएम मोदी ने इन्हें ‘Man on a Misson’ बताया और जमकर तारीफ की. आकाशवाणी के ”मन की बात” कार्यक्रम की 74वीं कड़ी में अपने विचार साझा करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि सबको नायक सर के योगदान के बारे में जानना चाहिए.

इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को ‘मन की बात’ कार्यक्रम के दौरान जल संरक्षण करने के लिए मध्यप्रदेश के अगरौठा गांव की महिला बबीता राजपूत की अपने गांव में एक सूख चुकी झील को पुन: लबालब भरने के लिए किये गये काम की सराहना की.
कौन हैं ओडिशा के नायक सर

पीएम मोदी ने बताया कि नायक सर (Nayak Sir from Odisha) का पूरा नाम सिलू नायक है. लेकिन ओडिशा के अराखुड़ा में सब उनको नायक सर ही बुलाते हैं. सिलू नायक ऐसे युवाओं को मुफ्त में प्रशिक्षित करते हैं जो सेना में शामिल होना चाहते हैं. पीएम मोदी ने कहा कि सिलू नायक ‘Man on a Misson’ हैं. पीएम मोदी ने जानकारी दी कि नायक सर के संगठन का नाम महागुरु बटालियन है. इसमें फिजिकल फिटनस से लेकर इंटरव्यू तक और लिखित से लेकर इंटरव्यू तक, सभी पहलुओं के बारे में बताया जाता है. प्रधानमंत्री ने बताया कि नायक सर ने जिन लोगों को ट्रेनिंग दी है वे थल सेना, जल सेना, वायु सेना, CRPF, BSF में अपनी जगह बना चुके हैं.

इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने जल को जीवन के साथ ही आस्था का प्रतीक और विकास की धारा करार देते हुए रविवार को देशवासियों से इसका संरक्षण करने का आह्वान किया. पीएम मोदी ने विज्ञान को प्रयोगशाला से खेती-किसानी की ओर आगे बढ़ाने का आह्वान करते हुए रविवार को कहा कि इसे सिर्फ भौतिकी और रसायन तक सीमित नहीं किया जा सकता. उन्होंने कहा कि विज्ञान की शक्ति का ”आत्मनिर्भर भारत” अभियान में भी बहुत योगदान है.

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button