छत्तीसगढ़

मंत्रों के जाप से करें कष्टों का निवारण : साधिका डॉ प्रतिभा

रायपुर : ज्योतिष एवं वास्तु वाचस्पति, ज्योतिष रत्न व ज्योतिष भास्कर से अलंकृत साधिका डॉ प्रतिभा पावनी ने आज रायपुर प्रेस क्लब में प्रेस वार्ता लिया और इसमें उन्होंने कहा कि मंत्र का सही तरीके से जाप करने से कष्टों का निवारण होगा और आपके ऑरा में वृद्धि होगी। आज के प्रेस वार्ता में छत्तीसगढ़ पिरामिड स्पिरिट्यूएल सोसाइटीज मूवमेंट के प्रेसिडेंट शैलेन्द्र जैन, अनिल जैन एवं सामाजिक कार्यकर्ता सुदीप्तो चटर्जी उपस्थित थे। सर्वप्रथम सामाजिक कार्यकर्ता सुदीप्तो चटर्जी ने अतिथियों का परिचय करवाया और आज के इस विशेष प्रेस वार्ता पर अपनी बात रखा। साधिका डॉ प्रतिभा ने बताया कि मंत्रों का स्पष्ट उच्चारण सभी को करना चाहिए जिससे कि वातावरण में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश हो साथ ही नाभि से निकलने वाले मंत्रों के प्रत्येक शब्दों में बहुत शक्ति होती है। साधिका डॉ प्रतिभा ने यह भी बताया कि जो लोग पिरामिड के नीचे बैठकर ध्यान करते हैं वे भी उस समय अपने मन मे मंत्रों का सही उच्चारण करते हैं तो उन्हें बहुत अधिक सकारात्मक ऊर्जा की प्राप्ति होती है और धीरे धीरे उनका ऑरा में फर्क दिखाई देने लगता है। उन्होंने यह भी कहा कि जैन मंत्रों का मंत्रोच्चारण हिन्दू भी कर सकते हैं। मंत्रों में किसी भी प्रकार का भेदभाव नहीं होता है। उन्होंने नवकार मंत्र के विशेषता के बारे में भी बताया। शैलेन्द्र जैन ने कहा कि कल 5 सितंबर को शाम 6 बजे कांगेर वैली स्कूल में स्थापित महावीर पिरामिड सेन्टर में पूर्णिमा के अवसर पर विशेष पिरामिड ध्यान का कार्यक्रम निःशुल्क आयोजित किया गया है जिसमे कोई भी ध्यान (मेडिटेशन) करने हेतु आ सकते हैं। अंत मे सामाजिक कार्यकर्ता सुदीप्तो चटर्जी ने सभी उपस्थित सज्जनों को धन्यवाद दिया और यह आग्रह किया कि साधिका प्रतिभा पावनी अभी आगामी 4 दिनों तक रायपुर मे उपस्थित हैं और उनसे मंत्र, ज्योतिष व वास्तु पर कुछ जानना है तो वे कचहरी चौक बाल आश्रम के पास स्थित कैलाश पिरामिड मेडिटेशन सेन्टर में संपर्क कर सकते हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.