मोदी की हत्या की साजिश, पी वारवरा राव समेत कई गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ में ट्रेड यूनियन कार्यकर्ता सुधा भारद्वाज भी गिरफ्तार

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश रचने के मामले में नया मोड़ आ गया है। माओवादियों की साजिश की तह तक जाने के लिए पुलिस ने पांच राज्यों के 8 ठिकानों पर एक साथ छापे मारे हैं। इस मामले में लेखक पी. वारावारा राव को हैदराबाद से गिरफ्तार किया गया है।

इसके अलावा कई और लोगों की गिरफ्तारी हुई है। तकरीबन सात घंटे तक चली छानबीन के दौरान उनके घर से कई दस्तावेज बरामद किए गए हैं। वारावारा राव को गिरफ्तार करने के बाद उन्हें हेल्थ चेकअप के लिए गांधी अस्पताल ले जाया गया।

बता दें कि पुणे पुलिस ने जून में कथित तौर पर पांच लोगों में एक व्यक्ति के घर से मोदी की हत्या की साजिश के उल्लेख वाला एक पत्र बरामद किया था। इन पांचों लोगों को भीमा कोरेगांव हिंसा से जुड़े मामले में गिरफ्तार किया गया था। बरामद पत्र में कथित तौर पर प्रधानमंत्री की हत्या पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की तर्ज पर करने की बात कही गई है। इस पत्र को लिखने वाले व्यक्ति की पहचान सिर्फ आर के रूप में की गई है।

पत्र में एम-4 राइफल खरीदने के लिए आठ करोड़ रुपए की जरूरत का जिक्र
इसमें साजिश को अंजाम देने के लिए एक एम-4 राइफल व चार लाख चक्र कारतूस खरीदने के लिए आठ करोड़ रुपए की जरूरत का जिक्र किया गया है। कहा जा रहा है कि इस पत्र में वरवर राव का नाम शामिल है। वरवर राव क्रांतिकारी लेखकों के एक संगठन वीरसम के अध्यक्ष हैं। राव ने इन आरोपों को खारिज किया है। उन्होंने कहा कि इस मामले में गिरफ्तार सभी पांच लोग वंचितों की भलाई के लिए काम रहे थे।

माओवादी साजिश के मामले में पुलिस ने 5 राज्यों में एक साथ मारे छापे
मीडिया में आई खबरों के मुताबिक एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि पिछले साल 31 दिसंबर को पुणे में एल्गार परिषद नाम के एक कार्यक्रम के बाद महाराष्ट्र के कोरेगांव-भीमा गांव में हुई हिंसा की जांच के तहत ये छापे मारे गए हैं। अधिकारी ने बताया कि हैदराबाद में वामपंथी कार्यकर्ता और कवि वरवर राव, मुंबई में कार्यकर्ता वेरनन गोन्जाल्विस और अरूण फरेरा, फरीदाबाद और छत्तीसगढ़ में ट्रेड यूनियन कार्यकर्ता सुधा भारद्वाज और दिल्ली में रहने वाले सिविल लिबर्टीज के कार्यकर्ता गौतम नवलखा के घरों की तलाशी ली गयी। उन्होंने बताया कि तलाशी के बाद राव और भारद्वाज को गिरफ्तार कर लिया गया।

Back to top button