बीते कुछ वर्षों में युवा कांग्रेस के कई कार्यकर्ताओं की जान चली गई: प्रियंका गांधी

प्रियंका गांधी वाड्रा ने वाम मोर्चे पर हिंसक राजनीतिक करने का आरोप लगाते हुए कहा

कोल्लम/करुनागपल्ली:कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने 6 अप्रैल को होने वाले चुनाव के मद्देनज़र करुनागपल्ली, कोल्लम और कोट्टाराका में सिलसिलेवार तरीके से जनसभाओं को संबोधित किया. गांधी ने वाम मोर्चे पर हिंसक राजनीतिक करने का आरोप लगाते हुए कहा कि बीते कुछ वर्षों में युवा कांग्रेस के कई कार्यकर्ताओं की जान चली गई है.

लेकिन यह ‘अलोकतांत्रिक’ सरकार हत्यारों को ‘बचा रही’ है. उन्होंने पेरिया में कथित रूप से सीपीएम कार्यकर्ताओं के हमले में युवा कांग्रेस के दो कार्यकर्ताओं की मौत की ओर इशारा करते हुए यह बात कही.

केरल के कोल्लम में चुनाव प्रचार के दौरान प्रियंका ने राज्य की सीपीएम की अगुवाई एलडीएफ सरकार पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि केरल के लोग राज्य का असली सोना हैं, लेकिन मुख्यमंत्री सोना तस्करी करने और बहुराष्ट्रीय कंपनियों को मत्स्य कारोबार का ठेका देने में व्यस्त हैं. उन्होंने कहा कि राज्य की संपत्तियों को कॉरपोरेट्स के हाथों बेचना इनका एजेंडा है.

प्रियंका गांधी ने कहा कि यह ‘धोखाधड़ी और घोटालों’ वाली सरकार है, जो ‘उद्योगपतियों’ के घोषणापत्र पर अमल कर रही है. उन्होंने कहा कि वाम लोकतांत्रिक मोर्चा (एलडीएफ) सरकार ने वामपंथी घोषणा पत्र लागू करने की शपथ ली थी, लेकिन वास्तव में वह केन्द्र की मोदी सरकार की तरह ‘उद्योगपतियों’ के घोषणापत्र पर अमल कर रही है.

‘लव जिहाद’ के मुद्दे पर कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने दावा किया कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री केरल में चुनाव प्रचार के लिये आते हैं और ‘लव जिहाद’ जैसे मुद्दे उठाते हैं. उन्होंने इस मुद्दे पर केरल कांग्रेस (एम) के नेता जोस के मणि के बयान की ओर इशारा करते हुए कहा कि एलडीएफ के सहयोगी दल भी वही भाषा बोल रहे हैं.

प्रियंका गांधी ने कहा, “यह धोखाधड़ी और घोटालों की सरकार है. हर समय नया घोटाला उभरकर आता है, मुख्यमंत्री कहते हैं कि उन्हें इस बारे में कोई जानकारी नहीं है. मैं उनसे पूछती हूं, अगर उन्हें यह नहीं पता है कि उनकी नाक के नीचे क्या हो रहा है तो फिर सरकार कौन चला रहा है.” इससे पहले गांधी ने कयमकुलम से कांग्रेस उम्मीदवार अरिता बाबू के साथ वाहन में सवार प्रियंका ने सड़क के दोनों ओर खड़े लोगों का हाथ हिलाकर अभिवादन किया और कई लोगों से हाथ भी मिलाया.

छब्बीस साल की अरिता बाबू केरल विधानसभा चुनाव में सबसे कम उम्र की उम्मीदवार हैं. उनका मुकाबला सीपीएम की मौजूदा विधायक यू प्रतिभा हरि और बीजेपी उम्मीदवार प्रदीप लाल से होगा.

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button