नक्सलियों ने माना बीते एक साल में 65 नक्सली मारे गए

-प्रेस नोट जारी कर दी जानकारी

दंतेवाड़ा।

नक्सलियों ने 2 से 8 दिसम्बर तक पीएलजीए सप्ताह मनाने का आह्वान किया है। पीएलजीए सप्ताह मना रहे नक्सलियों ने आज एक प्रेस नोट जारी कर बताया कि बीते एक साल में पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में 65 नक्सली मारे गए हैं। नक्सली प्रवक्ता गणेश उइके ने प्रेस नोट जारी कर यह जानकारी दी है।

इसके साथ ही नक्सलियों के केंद्रीय कमेटी के सदस्य अरविंद की बीमारी से मौत हुई थी। जबकि दरभा डिविजन में हुए मुठभेड़ में नक्सली कमांडर उद्यम सिंह मारा गया था।

इसके साथ ही नक्सलियों के पीएलजीए सप्ताह के मद्देनजर प्रशासन द्वारा सभी थानों में अलर्ट जारी कर दिया गया है। इस दौरान किसी अप्रिय घटना को रोकने के लिए पुलिस लगातार सर्च ऑपरेशन चला रही है।

पुलिस ने इलाके की सर्चिंग तेज करते हुए गस्त बढ़ा दी है. क्षेत्र के अंदरूनी इलाकों में ड्रोन से नजर रखी जा रही है। पुलिस ग्रामीणों को नक्सलियों से दूर रखने के लिए संदिग्धों पर लगातार कार्रवाई भी कर रही है।

इस दौरान क्या करते हैं नक्सली

इस सप्ताह के दौरान नक्सली अपने रणनीति के तहत गांव-गांव में जाकर युवाओं को संगठन से जोड़ने, ग्रामीणों को मुखबिरी के लिए तैयार करने, संगठन को मजबूत करने और किसी घटना को अंजाम देने की तैयारी करते है। आम सभाओं के जरिए नक्सली आदिवासी इलाकों में अपना दबदबा बनाएं रखने का काम करते हैं।

इस बार पीएलजीए सप्ताह में नक्सली खासे नाराज नजर आ रहे हैं। उन्होंने हाल में ही सुकमा व बीजापुर में अपने कई साथियों को पुलिस मुठभेड़ में खोया है।

Back to top button