राष्ट्रीय

मराठा क्रांति मोर्चा का आंदोलन 30 नवंबर तक स्थगित

औरंगाबादः महाराष्ट्र सरकार से कल शाम लिखित आश्वासन मिलने के बाद मराठा क्रांति मोर्चा ने आरक्षण आंदोलन को 30 नवंबर तक के लिए स्थगित कर दिया। मराठा समुदाय के लिए सरकारी नौकरियों और शैक्षणिक संस्थानों में प्रवेश में आरक्षण देने के लिए 18 जुलाई से बीड जिले के पर्ली में लगातार आंदोलन चल रहा है।

बम्बई हाईकोर्ट ने भी मंगलावर को सुनवाई के दौरान कहा कि मराठा समुदाय से शांति बनाये रखने के लिए कहा गया था। हाईकोर्ट में कल आरक्षण पर चल रही सुनवाई के दौरान महाराष्ट्र सरकार ने हलफनामा पेश कर बताया कि पिछड़ा वर्ग आयोग 15 नवंबर को अपनी रिपोर्ट देगा। अदालत ने सरकार को 10 नवंबर को आयोग की प्रगति रिपोर्ट देने के लिए आदेश दिया है।

अदालत ने आंदोलन कर रहे लोगों से कहा कि आरक्षण का मामला अदालत में चल रहा है, इसलिए लगातार आंदोलन करना उचित नहीं है और अदालत ने युवाओं से आत्महत्या जैसा कदम नहीं उठाने की अपील की। क्रांति मोर्चा के समन्वयक आबासाहब पाटिल ने कहा कि यदि उनकी मांगे नहीं मानी गयी तो वे एक दिसंबर से फिर आंदोलन शुरू करेंगे।