मुख्यमंत्री कन्या विवाह कार्यक्रम में 111 जोड़े का हुआ सामूहिक विवाह

- मनोज मिश्रा

महासमुंद: राज्य शासन द्वारा संचालित मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत महासमुंद जिले के जिलें में आज पिथौरा के मंडी प्रांगण में 111 जोड़े का सामूहिक विवाह कार्यक्रम सपन्न हुआ। कार्यक्रम में विधानसभा खल्लारी विधायक द्वारिकाधीश यादव मुख्य रूप सें उपस्थित हुए। उन्होंने सभी नवदंपत्तियों को परिणय सूत्र में बंधने पर हाार्दिक बधाई देते हुए उनके मंगलमय भविष्य की कामना की। इस अवसर पर जिला पंचायत सदस्य उषा पटेल, नगर पंचायत अध्यक्ष देवेन्द्र निषाद, अपर कलेक्टर आलोक पाण्डेय अन्य जनप्रतिनिधिगण, एसडीएम पिथौरा बी.सी.एक्का, महिला एवं बाल विकास विभाग के कार्यक्रम अधिकारी बृजेन्द्र सिंह ठाकुर विशेष रूप से उपस्थित थे।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए खल्लारी विधानसभा के विधायक एवं कार्यक्रम के मुख्य अतिथि द्वारिकाधीश यादव ने कहा कि राज्य शासन द्वारा संचालित मुख्यमंत्री कन्या विवाह का कार्यक्रम अत्यंत महत्वपूर्ण अवसर है, जहां बड़ी संख्या में कन्याओं का विवाह जिला प्रशासन एवं महिला एवं बाल विकास विभाग के सहयोग से किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि वर्तमान शासन द्वारा इस योजना के तहत राशि में वृद्धि की गई है। पहले जहां प्रत्येक जोड़े के लिए 15 हजार रूपए का प्रावधान था, वहीं अब प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा इसे बढ़ाकर 25 हजार रूपए कर दिया गया है। उन्होंने इस अवसर पर कहा कि नवदंपत्ति अपने गृहस्थ जीवन में प्रवेश कर घर एवं परिवार को व्यवस्थित करते हुए परम्पराओं के अनुरूप अपने बड़ों का सम्मान और सेवा करेंगे। साथ ही छत्तीसगढ के विकास में योगदान करें।

नगर पंचायत अध्यक्ष देवेश निषाद ने इस अवसर पर कहा कि जहां इस खर्चीले युग में गरीबों के लिए शादी करना कई सालों की मेहनत की कमाई एक शादी करने में खर्च हो जाता था, लेकिन इस योजना के तहत अब विवाह कार्यक्रम आसानी से हो रहा है। इसमें ग्राम स्तर के आंगनआड़ी कार्यकर्ता सहित जमीनी स्तर के अधिकारी-कर्मचारी का मार्गदर्शन कर हमें शासन की योजनाओं का पूरा लाभ दिलाने में विशेष सहयोग रहता है।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिला पंचायत सदस्य उषा पटेल ने कहा कि शासन के सहयोग से 111 जोड़े परिणय सूत्र में बंॅधें है। उन्होंने कहा कि गरीब परिवारों को इस बात की चिंता रहती थी कि लड़की की बड़े होने पर शादी-विवाह कैसे संभव होगा, लेकिन अब शासन द्वारा संचालित मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत यह आसान हो गया और उन गरीब परिवारों की दिक्कत दूर हो गई है। उन्होंने सभी जोड़ों से अपने परिवार और बड़ों की सेवा करने का आग्रह किया।

इस अवसर पर अपर कलेक्टर आलोक पाण्डेय ने सभी नव दंपत्तियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी और कहा कि जिस परिवार में कन्याएं जा रही है वहां उन्हें हर प्रकार की खुशियां मिले, उनका जीवन सुखमय-समृध्दिमय हो और परस्पर स्नेह एवं विश्वास के साथ अपना परिवारिक जीवन प्रारंभ करें। कार्यक्रम में महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी बृजेन्द्र सिंह ठाकुर ने अतिथियों का स्वागत किया और कहा कि मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजनातंर्गत शासन द्वारा राशि में 15 हजार से बढ़ाकर अब 25 हजार रूपए कर दी गई है। इस अवसर पर नवदंम्पतियों के अलावा उनके परिवारजन तथा जनप्रतिनिधिगण एवं आम नागरिक भारी संख्या में उपस्थित थे।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता भी रही मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना में वधु के रूप में शामिल पिथौरा के मंड़ी प्रागंण में आयोजित मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत आयोजित 111 जोड़ों का सामूहिक विवाह में ग्राम जम्हर निवासी नमिता निर्मलकर विगत 8 वर्षो से आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के रूप में कार्य कर रही है। जब उन्हें मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत विवाह कार्यक्रम का होना प्रस्तावित हुआ तभी वे अपना पंजीयन कराकर इस योजना के तहत राकेश निर्मलकर से आज परिणय सूत्र में बंधकर एक उदाहरण प्रस्तुत किया है।

Back to top button